संस, कलायत : विधानसभा चुनाव को लेकर कलायत हलके में भी पोलिग बूथों के बाहर भारी संख्या में मतदाता मतदान करने के लिए पहुंचे। जिला प्रशासन अधिकारी शांति पूर्वक ढंग से मतदान करवाने के लिए तत्पर रहे। सभी मतदान केंद्रों पर सुरक्षा व्यवस्था मजबूत रखा गया। कलायत हलके के गांव मटौर में सरोज ने अपनी दो माह की बेटी हर्षिका के साथ पहली बार मतदान किया। मुको देवी और अंग्रेजों सहित अन्य महिलाएं फसल कटाई के कार्य पर जाने से पहले वोट डालने बूथ पर पहुंची। ये अपने हाथों में टिफिन लिए थे। 98 वर्षीय शांति देवी में मतदान के प्रति जज्बा दिखाई दिया। वे अपने बेटे धर्मवीर और पौत्री के साथ मतदान केंद्र पर पहुंची। मोटर साइकिल पर सवार होकर मतदान करने आए 80 वर्षीय आभे राम भी चर्चित मतदाता रहे। कलासर गांव में महिला सरपंच ऋतु देवी, चांदी राम, सोहन लाल और दूसरे युवा ग्रामीणों को शत प्रतिशत मतदान के प्रति प्रेरित करती दिखाई दिए। किठाना गांव में 70 वर्षीय मियां सिंह, देवा सिंह, 90 वर्षीय दीवाना सिंह और कुछ दूसरे बुजुर्ग अशक्त होने के बाद भी मतदान में अपनी रुचि बनाए रहे।

बाक्स-

कमलेश ढांडा ने जेपी समर्थकों पर लगाए व्यवस्था बिगाड़ने के आरोप:

खरक पांडवा गांव के सरकारी स्कूल में स्थित बूथ पर भाजपा उम्मीदवार कमलेश ढांडा ने कांग्रेस उम्मीदवार जयप्रकाश समर्थकों पर व्यवस्था बिगाड़ने का आरोप लगाया। उनके भाई दिलावर सिंह ने बताया कि जब ढांडा मतदान केंद्रों का जायजा ले रही थी तो व्यवस्था उचित नहीं मिली। तत्काल प्रशासन को स्थिति से अवगत करवाया गया। इसके बाद एसपी विरेंद्र विज और दूसरे अधिकारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। व्यवस्था को नियंत्रित करके मतदान को सुचारु रूप से चलाया गया।

बाक्स-

आरोप निराधार: जेपी

कांग्रेस उम्मीदवार जयप्रकाश ने कहा कि वे लोकतंत्र में विश्वास रखने वाले नागरिक हैं। वे शुरू से ही संपूर्ण क्षेत्र में लोगों से शांति पूर्वक मतदान की अपील करते आए हैं। उनके समर्थकों की तरफ से किसी प्रकार की व्यवस्था नहीं बिगाड़ी गई। भाजपा उम्मीदवार के आरोप निराधार हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप