संवाद सहयोगी, घरौंडा

धान के सीजन में अनाज मंडी का दौरा करने पहुंचे नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने कहा कि नमी के नाम पर किसानों को लूटा जा रहा है। समर्थन मूल्य 1770 रुपये होने के बावजूद किसानों की धान 1400 से 1500 रुपये में खरीदी जा रही है। अभय चौटाला ने कहा कि सरकार राइस मिलर्स के साथ मिलकर किसानों को लूटने में लगी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में इनेलो-बसपा की सरकार आने पर जांच की जाएगी और मिलर्स से किसानों का पैसा वसूला जाएगा। अभय ने कहा कि फसलों पर पचास प्रतिशत मुनाफा देने और स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू करना तो दूर की बात है। भाजपा के चार वर्षो के राज में किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य भी नहीं मिल रहा। चौटाला ने कहा कि प्रदेश के सभी चावल मिल यूपी-बिहार से खरीदे सस्ते चावल से भरे हैं। सरकार ने कुरुक्षेत्र में मिलों की फिजिकल वेरिफिकेशन शुरू की थी, लेकिन मिलर्स मंत्री को माथा टेक आए। इसके बाद वेरिफिकेशन बंद कर दी। यह बहुत बड़ा घोटाला है। उनके कार्यकर्ता मंडियों और किसानों से दस्तावेज एकत्रित कर रहे हैं। इन दस्तावेजों को वे सीएम के सामने रखकर सवाल पूछेंगे। इस मौके पर जिला प्रधान यशवीर राणा कुक्कू, पूर्व विधायक नरेंद्र सांगवान, पूर्व विधायक रेखा राणा, संदीप टोनी, कुलदीप चेयरमैन, राजबीर पूर्व चेयरमैन, राजेंद्र जैन और गगनदीप विग मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस