जागरण संवाददाता, कैथल : डीसी डॉ. प्रियंका सोनी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल का डिजिटल इंडिया बनाने का सपना साकार हो रहा है। डिजिटल इंडिया के तहत ई-दिशा केंद्रों, सरल केंद्रों, अंत्योदय भवन केंद्रों तथा अटल सेवा केंद्रों के माध्यम से लोगों को उनके आसपास ही सभी योजनाओं का लाभ मिल रहा है।

पहले लोग शहर में आकर विभिन्न कार्यालयों के चक्कर काटते थे और एजेंट के जाल में फंस जाते थे। आज जिला में 37 विभागों की 485 सेवाओं व योजनाओं को ऑनलाइन किया गया है। इन विभागों की सभी योजनाएं और सेवाएं अब एक ऑनलाइन ऐप तथा वेबपोर्टल पर एक क्लिक पर उपलब्ध हैं।

कमेटी चौक पर अंत्योदय भवन केंद्र बनाया गया है, से जिलावासी अनेक योजनाओं के ऑनलाइन फार्म भरकर लाभ प्राप्त कर रहे हैं। उपमंडल कलायत, गुहला व पूंडरी तहसील कार्यालयों में अंत्योदय सरल केंद्र स्थापित किए गए हैं। आवेदन प्रक्रिया पेपरलेस तथा सेवा का अधिकार अधिनियम 2014 के अंतर्गत सभी योजनाओं व सेवाओं का लाभ निर्धारित समय सीमा में देना सुनिश्चित किया गया है।

इन केंद्रों पर नागरिकों को पहले आएं-पहले पाएं आधार पर टोकन दिया जाता है, ताकि उन्हें लाइन में नहीं लगना पड़े। नागरिकों को विभिन्न प्रक्रियाओं के लिए एक ही स्थान पर दस्तावेज जमा करवाने से लेकर भुगतान तक का सारा कार्य एकल खिड़की पर होता है। आवेदकों को एसएमएस के माध्यम से सूचना भी भेजी जाती है। जिला में ग्रामीणों व शहरी क्षेत्रों में 380 अटल सेवा केंद्र बनाए गए हैं, जिससे नागरिक सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ प्राप्त कर रहे हैं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप