जागरण संवाददाता, कैथल : डीसी प्रदीप दहिया ने बताया कि शुक्रवार को होम आइसोलेशन में रहे पांच कोरोना संक्रमितों ने कोरोना को मात दी। जिले में 11 हजार 103 कोरोना के मरीजों में से 10 हजार 687 मरीज ठीक हो चुके हैं। अब कोरोना के एक्टिव केस 78 रह गए हैं। अभी तक लिए गए दो लाख 74 हजार 811 में से दो लाख 63 हजार 411 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है। जिला का रिकवरी रेट 96.25 प्रतिशत हो गया है। पाजिटिव रेट 4.0 प्रतिशत है और डेथ रेट 3.0 प्रतिशत है। डीसी प्रदीप दहिया ने स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार बताया कि जिले में अलग-अलग जगहों से कोरोना वायरस से संक्रमित 13 नए केस सामने आए हैं। शुक्रवार को कोरोना से दो पुरुषों की मृत्यु हुई है, जिसका इलाज जिले से बाहर के अस्पतालों में चल रहा था। होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों की हो रही निरंतर निगरानी

जिला में 49 मरीज होम आइसोलेशन में है। इन लोगों से दूरभाष के माध्यम से संपर्क किया जाता है। ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों को मेडिकल किट व आयुर्वेदिक दवाओं की होम डिलीवरी की जा रही है। होम आइसोलेशन में रह रहे 9386 व्यक्तियों में से 9337 ठीक हो चुके हैं। ये है वैक्सीनेशन की स्थिति

जिले में शुक्रवार तक दो लाख छह हजार 782 व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा चुका है। इनमें से एक लाख 77 हजार 971 व्यक्तियों को पहली डोज और 28 हजार 811 व्यक्तियों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। जिनमें 10 हजार 960 हेल्थ केयर वर्कर्स, सात हजार 594 फ्रंट लाइन वर्कर्स, 18 से 45 वर्ष आयु वर्ग के 65 हजार 475 व्यक्ति और 45 वर्ष आयु वर्ग से ऊपर के एक लाख 22 हजार 753 व्यक्ति शामिल हैं। शुक्रवार को कुल 1416 व्यक्तियों का टीकाकरण किया गया, जिनमें छह हेल्थ केयर वर्कर, 15 फ्रंट लाइन वर्कर्स, 18 से 45 वर्ष आयु के 1077 व्यक्ति और 45 वर्ष से ऊपर के 318 व्यक्ति शामिल हैं। अब स्टाक के तौर पर 20080 वैक्सीन उपलब्ध हैं, जिसमें से 13800 कोविशिल्ड और 6280 कोवैक्सीन हैं।

Edited By: Jagran