मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, कैथल : डीसी डॉ. प्रियंका सोनी ने बाल भवन में स्थापित मॉडल डे केयर सेंटर का सुंदरीकरण के उपरांत विधिवत रूप से शुभारंभ किया। डे-केयर सेंटर में बच्चों के लिए खेल-खेल में सिखाने के विभिन्न क्रियाकलापों के बारे में डीसी ने फीडबैक ली।

उन्होंने कहा कि मॉडल डे-केयर सेंटर में बच्चों को खेल के जरिए ज्ञान दिया जा रहा है। इसके साथ-साथ बाल भवन में लड़कियों को ब्यूटीशियन, कटिग तथा टेलरिग के कोर्स भी करवाए जा रहे है, जिससे भविष्य में लड़कियां अपने पैरों पर खड़ी हो सकती हैं। बाल भवन परिसर में जल्द ही रंगशाला का निर्माण किया जाएगा, जिसके बनने उपरांत विभिन्न सांस्कृतिक गतिविधियां व बच्चों के कार्यक्रमों के लिए उपयुक्त स्थान मुहैया हो जाएगा।

उपायुक्त ने कहा कि बाल भवन के माध्यम से चलाई जा रही डे-केयर सेंटर ब्यूटीशियन,कटिग तथा टेलरिग के कोर्स को सभी खंड में भी चलाया जाएगा। इसके साथ पाई, जाखौली तथा चीका के तीनों मिनी बाल भवनों में ये गतिविधियां आरंभ की जाएगी। इस माडल डे-केयर सेंटर को दोबारा से रेनोवेट किया गया है, जिसमें तीन वर्ष तक के बच्चे आ सकते हैं। इन्हें शिक्षक व हैल्पर खेल-खेल में ज्ञान देने का कार्य कर रहे हैं।

इस मौके पर डीसी ने बाल भवन में चलाई जा रही ब्यूटीशियन, कटिग तथा टेलरिग के कोर्स की कक्षाओं में जाकर लड़कियों से बातचीत की। बाक्स-

जिला बाल कल्याण अधिकारी राजेन्द्र बहल ने बताया कि सेंटर में 26 बच्चे रोजाना आते हैं। ब्यूटीशियन सेंटर में 20 लड़कियां तथा कटिग और टेलरिग कोर्स में भी 20 लड़कियां प्रशिक्षण प्राप्त कर रही हैं। समय-समय पर बच्चों के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जाता है। ------------

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप