मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संवाद सहयोगी, सीवन : डीसी डॉ. प्रियंका सोनी ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत सीवन खंड के 5 स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा बनाए गए बेसिक सैनेटरी पैड को लड़कियों के स्वास्थ्य को मद्देनजर रखते हुए राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में निशुल्क देने के कार्य का शुभारंभ किया।

बता दें कि पिछले दिनों डोहर, रसूलपुर, फिरोजपुर, सीवन तथा खेड़ी गुलामअली की स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं को खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी कार्यालय के सभागार में बेसिक सैनेटरी पैड बनाने का प्रशिक्षण दिलवाया गया था।

राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में स्कूली छात्राओं ने उपायुक्त का स्वागत गीत के माध्यम से अभिनन्दन किया। इस मौके पर उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने स्कूली छात्राओं को स्वास्थ्य संबंधी अनेक बहुमूल्य जानकारी दी। उन्होंने छात्राओं से संवाद करते हुए भविष्य में प्राप्त किए जाने वाले लक्ष्यों के बारे में विचार सांझा किए। उन्होंने कहा कि हम अगर शारीरिक रूप से स्वस्थ होंगे तभी जीवन के हर क्षेत्र में कामयाबी हासिल कर सकते हैं। अपने बचपन के दिनों को याद करते हुए उपायुक्त ने कहा कि बालपन की अवस्था एक बड़ी ही विशेष अवस्था होती है, जैसा बच्चों का पालन पोषण होगा, बच्चों में वैसे ही संस्कार आएंगे।

डीसी ने कहा कि जिला में 2379 स्वयं सहायता समूह के माध्यम से 27 हजार 673 महिलाएं जुड़ी हुई हैं, जोकि सभी आधार से लिक हैं। ये महिलाएं विभिन्न कार्य करके अपना खुद का कार्य कर रही हैं। महिलाओं द्वारा बनाए गए बेसिक सैनेटरी पैड सैनेटाइजर मशीन की प्रक्रिया से गुजरते हैं, जोकि पूरी तरह सुरक्षित हैं।

इस मौके पर खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी रोजी, जिला शिक्षा अधिकारी विजेन्द्र नरवाल, खंड शिक्षा अधिकारी अशोक भट्ट, प्रधानाचार्य सतीश कक्कड़, मनोज कुमार, रामफल शर्मा, सोनिया, रकम सिंह, सुदेश, गोपाल, रेखा, राजेश, धर्मपाल, प्रदीप शर्मा, मनीषा, विजय कुमार, अनिता, मंजु, मनदीप मौजूद थे। ---------------

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप