जेएनएन, कलायत (कैथल)। हिमाचल स्थित मायके से जींद में ससुराल लौट रही एक महिला को रात में शरण देने के नाम पर उसके देवर द्वारा सामूहिक दुष्कर्म करवाने का मामला सामने आया है। पीड़ित विवाहिता की शिकायत पर पुलिस ने रिश्ते में देवर गांव छात्तर निकासी काला, राकेश और पंजाब के जिला संगरूर की खनौरी तहसील के गांव करौदा निवासी जस्सा के विरुद्ध सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज किया है।

पीड़ित महिला ने थाना कैथल की जांच अधिकारी हरप्रीत को बताया कि वह जींद जिले के एक गांव में विवाहिता है। 5 अगस्त को हिमाचल प्रदेश स्थित मायके से पड़ोस में रहने वाले काला के साथ कैथल आई थी। बस अड्डे पर पहुंचने पर काला ने अपनी बुआ के लड़के जस्सा को बुला लिया। रास्ते में वह उसे सजूमा गांव के एक ढाबा में ले गए। रात होने के कारण उन्होंने शरण देने के नाम पर उसे वहीं रोक लिया। आरोप है कि रात को काला, जस्सा और राकेश ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।

यह भी पढ़ें: विकास व उसका दोस्‍त गिरफ्तार, सुभाष बराला बोले- दोषी है तो कार्रवाई हो

लोकलाज में रखा मुंह बंद

पीड़िता के अनुसार एक दिन तो उसने लोकलाज के कारण परिवार से घटना को छिपाए रखा, मगर अगले दिन आपबीती परिवार को बता दी। इसके बाद आरोपियों के खिलाफ थाना उचाना में शिकायत दी गई। पुलिस ने इसे कलायत क्षेत्र के गांव सजूमा की घटना बताकर संबंधित थाने भेज दिया।

पुलिस ने मामले में दिखाई तत्परता

जींद, कैथल और कलायत उप मंडल की पुलिस ने संयुक्त रूप से घटनास्थल का मुआयना किया। जिला पुलिस अधीक्षक सुमेर प्रताप सिंह ने मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए कार्रवाई के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें: किसानों ने शुरू किया जेल भरो आंदोलन, कर्जमाफी को लेकर दी गिरफ्तारी

पीडि़ता की शिकायत पर तीन लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज कर लिया गया है। अभियुक्तों को शीघ्र गिरफ्तार किया जाएगा।

-हरप्रीत, जांच अधिकारी, महिला थाना कैथल।

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस