जागरण संवाददाता, कैथल: डीसी सुजान सिंह ने कहा कि इस बार जीरो बर्निंग यानि जिला में कहीं भी फानों में आग नहीं लगने देने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। प्रशासन के पास फसल अवशेष प्रबंधन के लिए व्यापक इंतजाम हैं। सभी किसान कस्टम हायरिग सेंटर के माध्यम से फसल अवशेष प्रबंधन करना सुनिश्चित करें। इसके बावजूद अगर कोई किसान पराली जलाता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इतना ही नहीं, फाने जलाने की घटना को रोकने में जनप्रतिनिधि व संबंधित एसएचओ की सीधी जिम्मेदारी बनती है। इसके साथ-साथ अगर किसी सरकारी कर्मचारी द्वारा पट्टे पर दी हुई जमीन पर फानों में आग लगती है तो पट्टेदार सहित संबंधित कर्मचारी के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। डीसी कोयल कांप्लेक्स में फसल अवशेष प्रबंधन विषय पर अधिकारियों की बैठक ले रहे थे।

उन्होंने कहा कि फाने जलाने की घटना जिले में नहीं होनी चाहिए। इसके लिए सभी विभाग आपसी तालमेल से कार्य करते हुए किसानों को निरंतर जागरूक करते रहे। कोरोना के चलते धुआं होने से मानव के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। सभी संबंधित विभाग लोगों को समझाएं, फिर भी कोई व्यक्ति नहीं मानता है और पराली जलाता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। इस विशेष अहम अभियान के तहत कोई अधिकारी व कर्मचारी भी संतोषजनक कार्य नहीं करेगा तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। संबंधित गांव के नंबरदार अगर फाने जलाने की घटना में शामिल पाए जाते हैं या वह समय पर सूचना नहीं देते हैं तो उनके खिलाफ भी आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। ग्राम स्तरीय समितियां निरंतर अपने संबंधित गांवों के किसानों को जागरूक करें।

उपकृषि निदेशक डा.कर्मचंद ने विभाग की तैयारियों पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि आइईसी एक्टिविटी के तहत निरंतर किसानों को जागरूक किया जा रहा है। वॉल पेंटिग, विशेष वाहन व सेमिनारों के माध्यम से किसानों को फाने नहीं जलाने के बारे में प्रेरित किया जा रहा है। इसके साथ-साथ पराली न जलाएं, पर्यावरण बचाएं स्लोगन लिखे 12 हजार मास्क भी वितरित किए जा चुके हैं। इस मौके पर एसपी शशांक कुमार सावन, एसडीएम डा.संजय कुमार व शशि वंसुधरा, डीएसपी दलीप सिंह, रविद्र सांगवान, डीडीए डा.कर्मचंद, डीआरओ सुरेश कुमार, तहसीलदार सुदेश मेहरा, नायब तहसीलदार ईश्वर सिंह, डीआइओ दीपक खुराना, बीडीपीओ सुरेंद्र शर्मा व फूल सिंह, डा.दिनेश शर्मा, डा.सतीश नारा, सज्जन सिंह मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021