जागरण संवाददाता, कैथल : हरियाणा पब्लिसिटी सेल के चेयरमैन रॉकी मित्तल ने कहा कि कोरोना वायरस से भी खतरनाक नशे की लत है। युवा पीढ़ी को नशे की लत से बचाना होगा। नशे के कारण पूरा परिवार उजड़ जाता है और नशा करने वाले व्यक्ति को भी अपने जीवन से हाथ धोना पड़ता है। सिर्फ शासन और प्रशासन से ही नही, बल्कि सभी आमजन आंदोलन चलाकर नशा को जड़मूल से खत्म करने का काम करें।

चेयरमैन रॉकी मित्तल रविवार को मीडिया सेंटर में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नशे की प्रवृति किसी भी वायरस से खतरनाक है। एक बार नशे की लत पड़ जाने से व्यक्ति उसके चंगुल में फंस जाता है, जिससे निकलना कठिन है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल राज्य से नशा को समाप्त करने का बीड़ा उठा चुके हैं। सभी जन प्रतिनिधि अपने-अपने क्षेत्रों में नशा के खिलाफ जागरूकता फैलाएं और नशा को रोकने के लिए आवश्यक कदम उठाए। पुलिस विभाग सख्ती से नशे के खिलाफ विशेष अभियान चलाकर इस कार्य में संलिप्त लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाए।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार जगह-जगह जाकर लोगों को नशा के खिलाफ जागरूक किया जा रहा है। जीटी रोड पर स्थित सभी ढ़ाबों पर नशे के खिलाफ प्रचार-प्रसार किया जाएगा। सभी धार्मिक संस्था के लोगों से अपील की जा रही है कि कहीं भी धार्मिक प्रवचन, कथा आदि के दौरान नशे के खिलाफ भी लोगों को जागरूक करें।

उन्होंने कहा कि नशा को छोड़ने और दूर करने के उपायों के साथ सरकार की जितनी भी जन कल्याणकारी योजनाएं हैं, उन सबका भी व्यापक प्रचार-प्रसार किया जा रहा है, ताकि संबंधित व्यक्ति को उसका लाभ मिले। ----------

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस