जागरण संवाददाता, कैथल : डीसी सुजान सिंह ने कहा कि कोविड-19 के दृष्टिगत जो परिवेश बदला है, हमें उसी के अनुरूप जीने का सलीका सीखना होगा। इस विकट परिस्थिति को हिदायतों की पालना से नियंत्रण में किया जा सकता है। हम सभी को अपनी सोच को सकारात्मक रखना होगा, तभी जीवन के हर लक्ष्य को पाया जा सकता है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जितनी भी हिदायतें दी गई हैं, उन सभी का अनुसरण करते हुए जिला वासियों ने एक अनूठी मिसाल दी है, जिसके कारण जिला में स्थिति नियंत्रण में रही है। डीसी सोमवार को इंदिरा गांधी महिला महाविद्यालय में आयोजित कोविड-19 जागरूकता कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि बोल रहे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा जिलाध्यक्ष अशोक गुर्जर ने की।

डीसी ने कहा कि कॉलेज प्रबंधन कमेटी का अच्छा प्रयास है कि कोविड-19 से बचने के लिए इस तरह का जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन करना और साथ ही छात्राओं को मास्क व सैनिटाइजर वितरित करना। उन्होंने कहा कि हम सभी को स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हिदायतों का पालन करना चाहिए और हिदायतें कहने से नही पालन करने से होती है।

बाक्स- हिदायतों का करें पालन

डीसी सुजान सिंह ने कहा कि किसी ने भी नही सोचा था कि इतनी बड़ी भयानक बीमारी पूरे विश्व को अपने चंगुल में ले लेगी। संसार भर में इसे रोकने के लिए व समाप्त करने के लिए अनेक शोध चल रहे हैं, जब तक इसकी कोई दवाई नहीं आती, तब तक हम केवल सावधानी करके बच सकते हैं। इस विकट स्थिति में निष्कर्ष निकला है कि मास्क लगाकर, व्यक्तिगत सफाई रखकर और दूरी बनाकर व अन्य हिदायतों का पालन करके ही हम इससे बच सकते हैं। उन्होंने कहा कि सभी छात्राएं सकारात्मक सोच से आगे बढ़े और जीवन के हर लक्ष्य को प्राप्त करें। जगदीश बहादुर खुरानिया ने मुख्यातिथि का स्वागत किया। इस अवसर पर कॉलेज छात्राओं ने स्वागत गीत, कोविड जागरूकता कविता, शोलो डांस, गीत, हरियाणवी ग्रुप डांस आदि की प्रस्तुति दी। शैक्षणिक क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली छात्राओं को सम्मानित भी किया गया।

ये रहे मौजूद

अरविद खुरानिया, श्याम बहादुर खुरानिया, आरती गर्ग, रोहित खुरानिया, नरेंद्र मिगलानी, सुभाष शर्मा, सलिद्र आचार्य, अलका गोयल, पूर्णिमा, सीमा, मोनिका गुगलानी, प्रियंका बिदलिश, ज्योति, रोहित मौजूद थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप