संवाद सूत्र, उचाना : गांवों के शराब के ठेके को बंद करने के लिए ग्राम सभा में प्रस्ताव पारित करने के फैसले का महिलाओं ने स्वागत किया है। महिलाओं ने कहा कि विधानसभा चुनाव में जेजेपी की स्टार प्रचारक एवं बाढ़ड़ा विधायक नैना चौटाला ने महिलाओं से वायदा किया था कि जेजेपी के सत्ता में आने पर शराब के ठेके को गांव से बाहर करवाएंगी। अब भाजपा की सहयोग पार्टी जेजेपी के बनने से यह वायदा सीएम मनोहर लाल, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला से मिलकर पूरा करवाने का काम किया। गांव में शराब के ठेके से गांव में नशा बढ़ने से हर परिवार परेशान था। अब बांगर की महिलाएं नैना चौटाला को इसके लिए चिट्ठी लिख कर आभार भी व्यक्त करेंगी।

खेड़ी मंसानिया गांव की महिला सरपंच संतोष देवी, पुष्पा, अनिता, सुदेश, सुमन, सुनीता, रेणुका ने कहा कि बीते साल भी गांव की पंचायत द्वारा गांव में शराब ठेका न होने को लेकर प्रस्ताव दिया था, लेकिन नियम आड़े आने के चलते बंद नहीं हुआ। अब ग्राम सभा में प्रस्ताव पारित होने के बाद गांव में शराब का ठेका बंद होने के सरकार के फैसले से इस बार गांव में शराब का ठेका बंद करवाएंगी।

स्कूल-कॉलेज की बेटियां होती थी परेशान

सिक्कम सफा खेड़ी, मुकेश, मुकेश डूमरखां, सोनिया बड़ौदा, बबीता, प्रेम ने कहा कि वैसे तो यह फैसला कैबिनेट में सरकार ने पारित किया है लेकिन इसको लेकर मुख्य रूप से वो चिट्ठी लिख कर नैना चौटाला का धन्यवाद करेंगी। गांव में जो शराब के ठेके हैं, वहां से विशेषकर बेटियों को स्कूल, कॉलेज के लिए आना-जाना रहता है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस