संवाद सूत्र, नरवाना : भारतीय किसान यूनियन ने चौ. घासी राम नैन की दूसरी पुण्यतिथि पर नई अनाज मंडी में चौ. घासी राम नैन विश्राम गृह पर किसान सम्मेलन चौ. नफेसिंह नैन सर्वजातिय सर्वखाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष की अध्यक्षता में किया गया। सम्मेलन में राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने शिरकत की। उन्होंने घासीराम नैन को श्रद्धाजंलि देते हुए कहा कि वे किसानों के मसीहा थे, उन्होंने अपना सारा जीवन किसानों की मांगों के लिए लगा दिया। यही कारण है कि आज भी उनको याद किया जाता है। उन्होंने कहा कि जो कमेरा वर्ग के लिए संघर्ष करता है, उसको ही याद किया जाता है। वहीं वक्ताओं ने सरकार के सामने मांगे उठाई कि किसान को पूर्ण रूप से कर्ज मुक्त किया जाये, सरकार की गलत नीतियों की वजह से ही किसान कर्जदार है। सरकार किसानों की सभी फसलें खरीदने की गारन्टी दें, किसान की आय सुनिश्चित की जाये, मनरेगा को कृषि कार्य से जोड़ा जाये, व्यापारी की तर्ज पर किसान व मदूर का भी सरकार जीवन बीमा पोलिसी लागू करें। परिमियम राशि स्वयं सरकार वहन करे, फसल बीमा योजना में सुधार किया जाये। गन्ने का रेट 400 रू. प्रति क्विटल दिया जाये। वक्ताओं ने कहा कि सरकार मांगों को माने, अन्यथा भारतीय किसान यूनियन हरियाणा आन्दोलन करने पर मजबूर होगी। इस मौके पर नरेश टिकैत राष्ट्रीय अध्यक्ष, चौ. जोगेन्द्र, जियालाल ढुंढवा, विद्यारानी, भीम सिंह, डा. प्रीतम सिंह धमतान, मांगेराम, रमेश नम्बरदार, सन्तलाल आर्य, गुरनाम सिंह, बलवान, फकीरचन्द, चतर सिंह मोर, बलवान नैन, रघबीर नैन प्रवक्ता नैन खाप, धूपसिंह, सत्यवान नैन, मा. बलबीर सिंह, अशोक दनौदा, अंग्र्रेज नैन, बिट्टू नैन उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप