जागरण संवाददाता, जींद : अखिल भारतीय व्यापार मंडल के राष्ट्रीय महासचिव व हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग दास गर्ग ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं है। केंद्रीय क्राइम ब्यूरो ने हरियाणा को अपराध के मामले में अव्वल नंबर बताया है। उन्होंने कहा कि जीएसटी लागू होने के बाद देश व प्रदेश में पहले ही व्यापार व उद्योग काफी प्रभावित हुआ है, प्रभावित होने का मुख्य कारण कपड़ा, चीनी, खाद, खेती में उपयोग आने वाली दवाई आदि काफी वस्तुओं पर टैक्स नहीं था, उस पर जीएसटी लगा दिया। जिन वस्तुओं पर टैक्स 5 व 12.5 प्रतिशत था, उन वस्तुओं पर 18 व 28 प्रतिशत टैक्स लगा दिया, जो व्यापारी एक टैक्स रिर्टन तीन महीने में भरता था, उसे एक महीने में तीन रिर्टन भरने का जटिल कानून बना दिया गया। जबकि वकील, सीए व अकाउंटेंट को जीएसटी रिर्टन भरने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, तो आम व्यापारी व उद्योगपति अपना व्यापार कैसे ठीक ढंग से कर सकता है। पेट्रोल व डीजल को जीएसटी के दायरे में लाए व व जो आम उपयोग में आने वाली वस्तुओं पर 28 प्रतिशत टैक्स है, उसे खत्म किया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस