जागरण संवाददाता, जींद : यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों की मंगलवार को पुलिस ने जमकर खबर ली। चुनावों के कारण पिछले डेढ़ महीने से शांत बैठी यातायात पुलिस मंगलवार को एक्शन मोड में नजर आई। यातयात पुलिस ने जगह-जगह नाके लगा वाहन चालकों के कागजात चेक किए। जिसके पास हेलमेट, आरसी, लाइसेंस नहीं मिले, उनके चालान किए गए और जागरूकता का पाठ पढ़ाया गया।

नए मोटर व्हीकल एक्ट के लागू होने के कुछ दिनों बाद ही आदर्श चुनाव आचार संहिता लग गई थी, इसलिए चालान काटने के अभियान पर ब्रेक लग गए थे। मंगलवार को जिला यातायात प्रभारी परमजीत व राजाराम की टीम ने रानी तालाब, पटियाला चौक, गोहाना रोड पर पीजी कॉलेज के गेट पर वाहनों की चेकिग की। जिनके पास हेलमेट, कागज, ड्राइविग लाइसेंस तथा प्रदूषण जांच के प्रमाण पत्र नहीं थे। 50 से ज्यादा चालान यातायात पुलिस द्वारा मंगलवार को किए गए। लंबे समय के बाद इस कार्रवाई से वाहन चालकों में हड़कंप मच गया। चालान से बचने की खातिर वाहन चालक छोटे रास्तों से वाहन निकालते देखे गए। जिला यातायात प्रभारी परमजीत व राजाराम ने बताया कि बेलगाम और यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों के चालान काटे गए हैं। यातायात नियमों का पालन करने के लिए जागरूक भी किया गया।

पुलिस समझी लेकिन जनता अभी तक नहीं समझी

नए मोटर व्हीकल एक्ट के लागू होने के बाद एसएसपी अश्विन शैणवी ने सभी पुलिस कर्मियों को आदेश दिए थे कि कोई भी पुलिस कर्मचारी बिना हेलमेट के बाइक नहीं चलाएगा। गाड़ी चलाते समय भी सभी यातायात नियमों का पालन किया जाएगा। इसके बाद पुलिस तो समझ गई और अब लगभग सभी पुलिस कर्मचारी हेलमेट का प्रयोग करते हैं लेकिन जनता अभी तक नहीं समझी। 50 प्रतिशत से ज्यादा लोग अब भी यातायात नियमों का उल्लंघन करते देखे जा सकते हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप