जागरण संवाददाता, जींद : अंतरराष्ट्रीय नर्सिंग डे पर नर्सिंग एसोसिएशन की तरफ से मंगलवार नागरिक अस्पताल में रक्तदान शिविर का आयोजन किया। इसमें एसोसिएशन की प्रधान शारदा व महासचिव सुनीता दूहन के नेतृत्व में 21 स्टाफ नर्सों ने रक्तदान किया। शिविर का उद्घाटन सिविल सर्जन डॉ. जयभगवान जाटान ने किया और कोरोना महामारी के दौरान नर्सिंग स्टाफ द्वारा रक्तदान शिविर लगाने के फैसले की प्रशंसा की। देश या प्रदेश में जब भी कोई महामारी या बीमारी आती है तो स्टाफ नर्स प्रथम पंक्ति में खड़ी मिलती हैं। कोविड-19 के दौरान भी सभी स्टाफ नर्स ने अपनी जान जोखिम में डालकर ड्यूटी की है। नर्सिंग एसोसिएशन की प्रधान शारदा व महासचिव सुनीता दूहन ने कहा कि पदाधिकारियों, सदस्यों व समस्त नर्सिंग कर्मियों की ओर से 12 मई अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस को कोरोना महामारी के दौरान एक साथ एकत्रित न होकर व कार्यक्रम आयोजित न करके रक्तदान शिविर लगाने का फैसला लिया था। उन्होंने कहा कि उन्हें चिकित्सा क्षेत्र में सेवाएं देते वर्षों बीत गए हैं, लेकिन उन्हें कैडर के अनुसार पद नहीं दिए गए है। उनको स्टाफ नर्स की बजाए नर्सिंग नर्सिंग ऑफिसर पदनाम दिया जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस