जागरण संवाददाता, जींद। कपास की बर्बाद हुई फसल की स्पेशल गिरदावरी की मांग को लेकर 13 दिन से लघु सचिवालय के बाहर चल रहा किसान सभा का धरना डीसी डा. आदित्य दहिया के आश्वासन के बाद समाप्त कर दिया। अखिल भारतीय किसान सभा के राज्य प्रधान फूलसिंह श्योकंद ने बताया कि डीसी ने आश्वासन दिया है कि जींद में स्पेशल गिरदावरी करवाई जाएगी और किसानों को खराबे के मुताबिक मुआवजा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार के किसानों के काले कानूनों के खिलाफ आंदोलन जारी रहेगा। आंदोलन की भावी रणनीति के लिए 27 अक्टूबर को दिल्ली में 250 किसान संगठनों की बैठक होगी। 30 अक्टूबर को जींद में जिला स्तरीय कन्वेंशन करते रणनीति बनाएंगे। धरने में शामिल किसान राजकुमार, आजाद, महासिंह, कर्ण सिंह ने बताया कि बेसहारा पशुओं से आम आदमी व किसान पूरी तरह से दुखी है। सरकार इसका हल निकालने की बजाय गो रक्षकों के नाम कुछ लोगों की गुंडागर्दी करने का लाइंसेंस दे रखा है। इस अवसर पर रोहताश नगूरां, राजकुमार, आजाद, कर्णसिंह मौजूद थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021