संवाद सूत्र, उचाना : उपमंडल का दर्जा मिलने के बाद लोगों को उम्मीद थी कि अब सभी काम यहां होने से फायदा मिलेगा। लेकिन लोगों की परेशानी बढ़ गई है। कई दिनों से एसडीएम डॉ. शिल्पी पातड़ के अवकाश पर होने के चलते एसडीएम संबंधित कार्य देरी से हो रहे है। नरवाना एसडीएम डॉ. किरण को उचाना का चार्ज दिया गया है। शायद ही चार्ज मिलने के बाद एक बार भी यहां पर एसडीएम नरवाना डॉ. किरण ¨सह आई हों। आरसी, ड्राई¨वग लाइसेंस संबंधित बेशक सरकार द्वारा दिन तय किए गए हो लेकिन यहां पर कई महीनों से इनकी फाइलें पें¨डग पड़ी हैं। डॉ. शिल्पी पातड़ दो अगस्त से 15 सितंबर तक अवकाश पर हैं। यहां पर विभिन्न गांवों से लोग अपनी समस्याओं को लेकर आते हैं लेकिन एसडीएम के न होने पर तहसीलदार या विभाग के दूसरे कर्मचारी को अपनी शिकायत देकर चले जाते हैं। लोगों का कहना है कि जब उपमंडल का दर्जा मिल चुका है तो यहां पर नियमित रूप से एसडीएम को कार्यालय में बैठना चाहिए ताकि लोगों को उपमंडल बनने का फायदा मिल सकें। राजकुमार, सतबीर, सुखबीर, राजा ने कहा कि जिन्होंने एसडीएम कार्यालय में जुलाई माह में मोटरसाइकिल की आरसी के लिए अप्लाई किया था। अब तक आरसी नहीं मिली है। यहां पर जब भी जाते है तो कहते है कि एसडीएम अवकाश पर है। प्रशासन द्वारा अप्लाई के बाद दिन निर्धारित करने के बाद भी आरसी नहीं दी जा रही है। कोई फाइल पेंडिंग नहीं: डॉ. किरण

उचाना एसडीएम का चार्ज देख रही डॉ. किरण ¨सह ने कहा कि जब से उनके पास चार्ज आया है तब के बाद की कोई फाइल बाकी नहीं है। जो फाइलें डॉ. शिल्पी पातड़ के समय की हैं वो ही देख कर साइन करेंगी। नरवाना का चार्ज होने के चलते जितना समय होता है वो उचाना के लिए देती है।

Posted By: Jagran