जागरण संवाददाता, जींद : एनएचएम में काउंसलर भर्ती मामले की जांच में कमेटी को दो कर्मचारियों के रिकार्ड गायब मिले। अस्पताल प्रशासन ने सिविल लाइन थाना पुलिस को मामला दर्ज करने की सिफारिश की है। ज्ञात रहे कि वर्ष 2014 में नागरिक अस्पताल में एनएचएम के तहत 13 काउंसलरों की भर्ती की गई थी। पिछले दिनों सीएम फ्लाइंग द्वारा भर्ती की गड़बड़ी की आशंका के चलते जांच शुरू की। इसकी जांच डीसपी पुष्पा खत्री के नेतृत्व में गठित एसआइटी को सौंपी गई थी। टीम ने भर्ती हुए कर्मचारियों का रिकार्ड मांगा था। जब अस्पताल में गठित कमेटी ने रिकार्ड को खंगाला तो काउंसलर संगीता और संदीप की फाइल गायब थी। भर्ती के समय दिए गए कागजात गायब मिले। इसके लिए जब तत्कालीन डिप्टी सिविल सर्जन से संपर्क किया तो उन्होंने कोई कोई भी जवाब नहीं दिया। रिकार्ड नहीं मिलने पर शरणजीत कौर ने इसकी रिपोर्ट तत्कालीन डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. जय¨सह को दी। जहां से रिकार्ड नहीं मिलने के चलते सिविल लाइन थाना पुलिस को रिकार्ड गुम होने पर एनएचएम के तत्कालीन डिप्टी सिविल सर्जन के खिलाफ एफआइआर दर्ज करने की सिफारिश की है।

शिकायत के आधार पर होगी कार्रवाई : वीरेंद्र सिंह

सिविल लाइन थाना प्रभारी वीरेंद्र खर्ब ने बताया कि शिकायत मिलने का मामला उनके संज्ञान में आया है। शिकायत के आधार पर आगामी कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप