जागरण संवाददाता, जींद : कृषि एवं किसान कल्याण विभाग पिल्लूखेड़ा द्वारा खंड के गांव खरक गादियां, तेली खेड़ा और बनिया खेड़ा में किसानों को मेरा पानी मेरी विरासत योजना की जानकारी दी गई। कृषि विकास अधिकारी डा. सुभाष चंद्र ने किसानों को बताया कि धान की फसल में बहुत ज्यादा पानी की खपत होने के कारण धरती का जलस्तर हर वर्ष की भांति नीचे जा रहा है, जो कि चिता का विषय है। जल बचाव के लिए हरियाणा सरकार ने मेरा पानी मेरी विरासत नामक महत्वपूर्ण योजना लागू की है। सरकार द्वारा कम पानी से पकने वाली फसलों की बिजाई के लिए किसानों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि धान की फसल को छोड़कर किसानों को कम पानी से पकने वाली फसलों कपास, बाजरा, मक्का, दलहन व सब्जी लगाने वाले किसानों को सरकार द्वारा 7000 प्रति एकड़ की राशि प्रोत्साहन स्वरूप दी जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस