जागरण संवाददाता, जींद : मोदी मैजिक की सुनामी में जींद विधानसभा क्षेत्र में भी कांग्रेस प्रत्याशी भूपेंद्र सिंह हुड्डा और जजपा प्रत्याशी दिग्विजय चौटाला बुरी तरह मात खा गए। जींद हलके के कुल 172 बूथों में से भाजपा के रमेश कौशिक 134 बूथों पर जीते तो हुड्डा मात्र 34 पर ही जीत दर्ज कर सके, जबकि दिग्विजय चौटाला मात्र तीन बूथों पर ही दूसरे नंबर पर रह सके। खास बात यह भी रही कि जींद उपचुनाव में करीब 37 हजार से ज्यादा वोट लेने वाले दिग्विजय चौटाला 20 बूथों पर इकाई का आंकड़ा भी पार नहीं कर सके।

राष्ट्रवाद के नाम पर चुनाव मैदान में उतरी भाजपा को जींद हलके की जनता दिल खोलकर समर्थन दिया। शहर से लेकर गांवों के बूथों पर भी भाजपा को खूब वोट मिले। चुनाव परिणाम में यह भी देखने को मिला कि जाटों ने भी जातिवाद को नकारते हुए भाजपा को खूब वोट दिया। कई गांवों में जाट बहुल बूथों पर भी हुड्डा को हार का सामना करना पड़ा। जजपा प्रत्याशी दिग्विजय तो कहीं भी मुकाबले में नहीं दिखाई दिए। जींद के भाजपा नेताओं के बूथों पर रमेश कौशिक को बंपर वोट मिले। विधायक डॉ. कृष्ण मिढ़ा के बूथ पर रमेश कौशिक को 653 व हुड्डा को 141 और दिग्विजय को मात्र 16 वोट मिले। वन विकास निगम के चेयरमैन जवाहर सैनी के बूथ पर कौशिक को 734, हुड्डा को 209 और दिग्विजय को 18 वोट मिले। इसी तरह हाउसिग कारपोरेशन के चेयरमैन डॉ. ओपी पहल के गांव में भी हुड्डा को बुरी हार का सामना करना पड़ा। पहल के गांव जलालपुर खुर्द में हुड्डा को मात्र 201 व कौशिक को 1135 वोट मिले। इसी तरह दालमवाला गांव में हुड्डा को 907 व कौशिक को 1037 वोट मिले, जबकि दिग्विजय 328 वोट ही ले पाए। भाजपा नेता सुरेंद्र बरवाला व कांग्रेस के पार्षद सतपाल सत्तू के गांव संगतपुरा में उपचुनाव में जजपा को लीड मिली थी। लेकिन अब कौशिक 89 वोटों से जीत हासिल हुई। संगतपुरा में कौशिक को 593 व हुड्डा को 504 वोट मिले। कंडेला गांव में हुड्डा को 1524 व कौशिक को 1284 वोट मिले। टेकराम कंडेला को चेयरमैन बनाने के बाद कंडेला गांव में भाजपा के वोटों में इजाफा हुआ है। --दिग्विजय सिर्फ तीन बूथों पर दूसरे नंबर पर

जजपा प्रत्याशी दिग्विजय चौटाला सिर्फ तीन बूथों पर ही दूसरे नंबर पर रहे। जलालपुर खुर्द के बूथ नंबर 154, जाजवान के बूथ नंबर 165 व 167 पर ही दिग्विजय दूसरे नंबर पर रहे। बाकी 169 बूथों पर तीसरे नंबर पर रहे। 20 बूथों पर तो उन्हें 10 से भी कम वोट मिले। कई बूथों पर मात्र 2, 3, 4 वोट ही मिले। उपचुनाव में रणदीप सुरजेवाला को पछाड़ने वाले दिग्विजय की इस पतली हालत पर लोगों के बीच चर्चाएं चलती रहीं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस