-लंबे समय से टाइल और पत्थर की दुकान वालों ने किया हुआ था सरकारी जमीन पर कब्जा

जागरण संवाददाता, जींद : शहर में स्कीम नंबर 19 में लंबे समय से सरकारी जमीन का कमर्शियल प्रयोग कर रहे दुकानदारों के खिलाफ वीरवार को नगर परिषद ने कार्रवाई की। ड्यूटी मजिस्ट्रेट नायब तहसीलदार दीपक की मौजूदगी में नगर परिषद अधिकारियों ने दुकानों के बाहर रखी टाइल, पानी की टंकियां जब्त कीं। वहीं दुकानों के बाहर बनाए गए चबूतरे भी तोड़े गए। मौके पर शहर थाना प्रभारी सुनील कुमार पुलिस बल के साथ तैनात रहे। स्कीम नंबर 19 में टाइल, मार्बल, सैनेट्री हार्डवेयर की कई दुकानें हैं। दुकानदारों ने दुकानों के बाहर खाली पड़ी जमीन पर टाइल, पानी टंकियां रख कर कब्जा हुआ था। नगर परिषद ने पिछले महीने दुकानदारों को सरकारी जमीन पर रखा सामान उठाने और दुकानों के बाहर बनाए चबूतरे तोड़ने के लिए नोटिस जारी किया था। लेकिन दुकानदारों ने ना तो चबूतरे तोड़े और ना ही दुकानों के बाहर रखा सामान हटाया। वीरवार को नगर परिषद की तरफ से एमई भूपेंद्र अहलावत, मुख्य सफाई निरीक्षक मोहन भारद्वाज, जेई जय, पटवारी सुरेश जेसीबी, ट्रैक्टर-ट्राली के साथ कार्रवाई के लिए पहुंचे। जब नगर परिषद की टीम ने बाहर रखी टाइल और पानी की टंकियां उठाकर ट्राली में डालनी शुरू की, तो दुकानदारों में हड़कंप मच गया। दुकानदार खुद ही सामान उठाकर दुकानों के अंदर रखने लगे। इस दौरान कुछ दुकानदारों ने थोड़ा विरोध भी किया। दुकानदार का एक कारिदा नगर परिषद कर्मियों के सामान उठाने का विरोध करने लगा, तो पुलिस कर्मी उसे पकड़ कर ले गया। वहां मौजूद लोगों के कहने पर युवक को छोड़ा गया। नगर परिषद की टीम ने कार्रवाई करते हुए दुकानों व मकानों के बाहर अवैध रूप से बनाए चबूतरे भी तोड़ डाले।

---------------

कमर्शियल प्रयोग बंद नहीं किया तो मकानों को करेंगे सील

यहां दुकानदार अपने रिहायशी मकानों को भी गोदाम के रूप में कमर्शियल प्रयोग कर रहे हैं। दुकानदारों को रिहायशी मकानों का कमर्शियल प्रयोग ना करने के लिए नगर परिषद नोटिस जारी करेगी। अगर उसके बाद दुकानदार नहीं माने, तो मकानों को सील करने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

--------------

गांधी नगर में दुकानदारों को दिए जाएंगे नोटिस

शहर का पाश इलाका गांधी नगर में भी टाइल और पत्थर की दुकानें हैं। यहां दुकानदारों ने दुकानों के आगे 50 से 60 फीट तक कब्जा किया हुआ है। इन दुकानदारों को भी एक सप्ताह में जगह खाली करने के लिए नोटिस भेजा जाएगा। उसके बाद जगह खाली नहीं करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

--------------

पहले दिए थे नोटिस

एमई भूपेंद्र अहलावत ने बताया कि दुकानदारों को पहले नोटिस देकर खुद ही अतिक्रमण हटाने के लिए कहा था। जिन्होंने सामान नहीं हटाया, उनके खिलाफ कार्रवाई करते हुए सामान जब्त किया है। दुकानों व मकान के आगे बने चबूतरे तोड़े हैं। रिहायशी जगह का कमर्शियल प्रयोग करने वालों को नोटिस देकर सील करने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

Edited By: Jagran