जागरण संवाददाता, जींद : जींद डिपो महाप्रबंधक बिजेंद्र हुड्डा और ट्रैफिक मैनेजर (टीएम) ने शनिवार को ड्राइवर ट्रेनिग स्कूल की बसों का निरीक्षण किया। बसों में हेवी लाइसेंस की ट्रेनिग के लिए सही तरीके से ट्रेनिग दी जा रही है या नहीं, इसके बारे में प्रशिक्षणार्थियों से जानकारी दी। इसके बाद उन्होंने रूट पर चल रही बसों की भी चेकिग की।

जीएम बिजेंद्र हुड्डा ने बताया कि उन्हें शिकायत मिली थी कि हेवी लाइसेंस की ट्रेनिग के दौरान कभी पूरा समय नहीं दिया जाता तो कभी हाजिरी में भी गड़बड़ कर दी जाती है। इस पर उन्होंने निरीक्षण किया। इस दौरान किसी तरह की गड़बड़ी नहीं पाई गई। प्रशिक्षण देने वाले चालकों को सुरक्षित तरीके से ट्रेनिग देने के निर्देश दिए गए हैं। सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत एक सप्ताह तक हर रोज बसों की चेकिग की जाएगी और सुरक्षा संबंधी दिशा-निर्देश दिए जाएंगे। किसी भी तरह की कोताही बरतने पर चालक-परिचालक पर कार्रवाई भी की जा सकती है। ट्रैफिक मैनेजर योगेंद्र आसरी ने बताया कि ड्राइविग ट्रेनिग स्कूल की बसों के बाद रूटों पर चल रही बसों की भी चेकिग की गई। इस दौरान बिना टिकट यात्रा करने वाले लोगों पर जुर्माना किया गया।

अपराही मुहल्ले से महिला लापता, मामला दर्ज

जींद : शहर थाना क्षेत्र की एक कालोनी से एक महिला संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गई। अपराही मोहल्ला निवासी रामफल ने शहर थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी बेटी प्रिया की शादी 18 फरवरी 2016 को रूपनगर के मोनू के साथ हुई थी, लेकिन मारपीट के कारण उसकी बेटी का तलाक चार दिसंबर 2017 को हो गया था। उसकी बेटी 13 जनवरी को खाना खाकर सो गई थी। अगले दिन सुबह उठे तो देखा कि उसकी बेटी घर में नहीं मिली। उन्होंने आसपास तथा रिश्तेदारियों में भी तलाशा, लेकिन उसका सुराग नहीं लगा। उसने आरोप लगाया कि उसकी बेटी को मोनू अपहरण करके ले गया है। मामले के जांच अधिकारी हेड कांस्टेबल सुभाष ने बताया कि युवक के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021