जागरण संवाददाता, जींद : किसान रबी की फसलों का ब्योरा 31 दिसम्बर तक मेरी फसल-मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीकरण करवा सकते हैं। पंजीकरण करवाने के लिए ग्राम स्तर पर टीम का गठन किया जाएगा। इस टीम में जिला राजस्व, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी, कृषि तथा खाद्य एवं आपूर्ति विभाग से एक- एक अधिकारी व कर्मचारी को शामिल किया जाएगा।

मंगलवार को इस बारे में डीसी डॉ. आदित्य दहिया ने लघु सचिवालय के सभागार में कई विभागों के अधिकारियों की बैठक ली और निर्देश दिये कि किसानों को मेरी फसल- मेरा ब्यौरा पोर्टल पर फसलों का पंजीकरण करवाने के लिए जागरूक करें। जो टीमें ग्राम स्तर पर गठित की जायेंगी, वे सभी टीमें गांव-गांव जाकर किसानों से बातचीत करें और फसलों का ब्योरा ऑनलाइन करवायें। फसलों का ब्योरा ऑनलाइन होने से किसानों को जहां फसलों का उचित दाम मिलेगा, वहीं किसान अपनी इच्छानुसार फसल ब्रिकी के पैसे सीधे बैंक खातों में या आढ़तियों से प्राप्त कर सकते हैं। फसलों का ब्योरा ऑनलाइन करवाने से किसानों को बीमे का फायदा भी मिलेगा। डीसी ने सभी मार्केट कमेटियों के सचिवों को भी निर्देश दिये कि वे मंडी वाइज बैठक करके किसानों को प्रेरित करें। उन्होंने जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी से कहा कि वे सभी सरपंचों को भी निर्देश जारी करें कि जब गठित टीमें गांव में आये तो उनका पूरा सहयोग करें। किसान अपनी फसलों का ब्योरा अटल सेवा केंद्रों के माध्यम से पोर्टल पर पंजीकरण करवा सकते हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस