संवाद सूत्र, उचाना : हम शहीदों की बदौलत ही आजादी की सांस ले रहे हैं। शहीदों ने कुर्बानी देकर देश को आजाद करवाया। हमें उन्हें याद करना चाहिए उन्होंने जो सपने देश के लिए देखे थे उन्हें पूरा करना चाहिए। नरेंद्र मोदी देश के पहले ऐसे पीएम हैं, जिन्होंने शहीदों की याद के लिए देशभर में तिरंगा यात्रा शुरू की है, ताकि युवा पीढ़ी भी शहीदों के बारे में जान सके। यह तिरंगा यात्रा शहीदों को समर्पित है। यह बातें विधायक प्रेमलता ने पुरानी मंडी में तिरंगा यात्रा के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए कही।

डूमरखां कलां गांव से शुरू हुई तिरंगा यात्रा हलके के 18 गांवों से होते हुए शहीद लेफ्टिनेंट पवन कुमार के गांव में संपन्न हुई। रास्ते में जहां-जहां शहीदों की प्रतिमाएं थीं, उन पर विधायक प्रेमलता ने माल्यार्पण किया। मोटरसाइकिलों व गाड़ियों के काफिले में सवार युवा हाथों में तिरंगा लिए हुए थे।

शहीद की कोई कौम नहीं

उन्होंने कहा कि शहीद की कोई कौम नहीं होती है। देश की आजादी में अपनी जान कुर्बान देने वाला ¨हदुस्तानी है। भाजपा के शासनकाल में शहीदों के नाम से योजनाएं शुरू की गई हैं। प्रदेश के लिए गर्व की बात है कि देश पर सीमा की रक्षा करने वालों में से यहां के जवानों की संख्या सबसे अधिक है।

सैनिकों से पहचाने जाते गांव

उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में ऐसे कई गांव हैं जिन्हें फौजियों के नाम से जाना जाता है। प्रदेश के युवाओं में देश की सेवा करना का जज्बा है इसलिए वो फौज को चुनते हैं। युवाओं को चाहिए कि वो शहीदों के सपने को साकार करने के लिए उनके दिखाए मार्ग पर चलें। इस मौके पर मार्केट कमेटी के पूर्व चेयरमैन सज्जन श्योकंद, हरेंद्र डूमरखां, संजीव डूमरखां, नेहा सरपंच बड़ौदा मौजूद थे। यहां नपा चेयरपर्सन वीना बंसल ने उनका स्वागत किया।

बीरेंद्र ¨सह आज नरवाना में

विधायक प्रेमलता ने बताया कि केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र ¨सह 20 अगस्त को नरवाना में जाट धर्मशाला, धनौरी, दनौदा, नरवाना शहर में आयोजित कार्यक्रमों में पहुंचेंगे। 11 सितंबर को जींद में होने वाली हरियाणा गौरव रैली को लेकर ग्रामीणों को न्यौता भी देंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस