संवाद सूत्र, उचाना : छातर गांव में महिला कालेज नहीं बल्कि को-एड कालेज बनेगा। यानि इस कालेज में लड़कियों के साथ लड़कों के भी दाखिले होंगे। जबकि पहले सरकार की तरफ से महिला कालेज बनाने की बात कही गई थी। मंगलवार को रक्षाबंधन पर मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिए कालेज का शिलान्यास किया। प्रशासन ने गांव के राजकीय स्कूल में कार्यक्रम का आयोजन किया था, जिसमें डीसी डा. आदित्य दहिया, एसडीएम उचाना डा. राजेश कोथ सहित जजपा व भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे। डीसी डा. आदित्य दहिया ने कहा कि 14 एकड़ में बनने वाले कालेज में लड़के-लड़कियों के दाखिले होंगे। इस को-एजुकेशन कालेज से छातर के अलावा आसपास के कई गांवों के लड़के-लड़कियों को फायदा होगा। लंबे समय से इस क्षेत्र में कालेज बनाने की मांग की जा रही थी। रक्षाबंधन पर सीएम मनोहर लाल ने वीडियो कांफ्रेंसिग से इसका शिलान्यास किया। कालेज ग्राम पंचायत द्वारा उपलब्ध करवाई गई 14 एकड़ 6 कनाल व 5 मरले जमीन पर विकसित किया जाएगा। कालेज का भवन बनने तक गांव के सीनियर सेकेंडरी स्कूल में कक्षाएं लगाई जाएंगी। यह कालेज पढ़ाई व वास्तुकला के हिसाब से आधुनिक सुविधाओं से युक्त होगा।

----------------

जल्द शुरू होगा निर्माण कार्य

डीसी ने कहा कि महाविद्यालय का निर्माण कार्य तुरंत शुरू करवाया जाएगा। राज्य सरकार द्वारा स्वीकृति प्रदान करने के साथ ही छात्राओं के दाखिले का कार्य भी शुरू करवा दिया जाएगा। मुख्यमंत्री के संदेश को लोगों के बीच सांझा करते हुए डीसी जींद ने कहा कि आज से वृक्षा बंधन अभियान का शुभारंभ भी हो गया है। लोग अधिकाधिक पौधे लगाएं। इस अभियान के तहत स्कूली विद्यार्थी पौधारोपण करेंगे। बच्चे पौधारोपण की तस्वीरें भी अपलोड करेंगे। इसके लिए एक एप भी लांच किया गया है। इस दौरान दसवीं की परीक्षा परिणाम में जिला का नाम प्रदेश में रोशन करने वाली छात्रा प्रीती, आरती व प्रगति ने डीसी को राखी बांधी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस