जागरण संवाददाता, जींद : चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय (सीआरएसयू) ने कोरोना के चलते बीएड की परीक्षाएं ऑनलाइन कराने का फैसला किया है। जींद के साथ-साथ पानीपत, सोनीपत, फरीदाबाद, पलवल, महेंद्रगढ़, रेवाड़ी और हिसार के बीएड कालेज सीआरएसयू से जुड़े हुए हैं। वहीं एक बीएड कालेज चरखी दादरी का है। इन कालेजों में प्रथम वर्ष में करीब 17 हजार और अंतिम वर्ष में करीब 25 हजार विद्यार्थी हैं। सीआरएसयू ने डिग्री कालेजों में यूजी व पीजी अंतिम वर्ष की परीक्षाएं ऑफलाइन ली थी। केवल उन्हीं विद्यार्थियों की ऑनलाइन परीक्षाएं ली, जिन्होंने ऑनलाइन परीक्षा का विकल्प चुना था। लेकिन बीएड के छात्रों की संख्या अधिक होने और 30 प्रतिशत छात्र दूसरे राज्यों के होने के कारण ऑनलाइन परीक्षा कराने का फैसला लिया गया है। परीक्षाएं 20 अक्टूबर के आसपास शुरू होंगी। बीएड के साथ-साथ बीपीएड, डीपीएड, एमएड समेत राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद से स्वीकृत कालेजों में विभिन्न कोर्स की परीक्षाएं ऑनलाइन ली जाएंगी। अगर कोई विद्यार्थी ऑनलाइन परीक्षा के लिए व्यवस्था करने में सक्षम नहीं है, तो उसे अपने कालेज में सूचना देनी होगी। कालेज उसकी ऑनलाइन परीक्षा के लिए व्यवस्था करेगा। वहीं ऑनलाइन परीक्षा के बारे में ट्रेनिग भी देंगे। एक अंक के ऑब्जेक्टिव प्रश्न होंगे

परीक्षा नियंत्रक डा. राजेश बंसल ने बताया कि प्रश्न पत्र ऑब्जेक्टिव टाइप होगा। जो बहुविकल्पी आधारित होगा और प्रत्येक प्रश्न एक अंक का होगा। बहुविकल्पी आधारित प्रश्न पत्र में कोई च्वॉइस नहीं मिलेगी। सलेबस से 33 प्रतिशत प्रश्न आसान, 34 प्रतिशत प्रश्न मध्यम और 33 प्रश्न कठिन होंगे। 80 अंकों के पेपर में 60 मिनट, 40 अंकों के पेपर में 30 मिनट, 70 अंकों के पेपर को हल करने में 53 मिनट का समय मिलेगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस