जागरण संवाददाता, जींद : स्वास्थ्य विभाग और एनएचएम के तहत चलाए जा रहे मेंटल हेल्थ कार्यक्रम के तहत शहर की शिव कालोनी में मेंटल हेल्थ पर जागरूकता शिविर लगाया गया। इसमें प्रभारी डॉ. संकल्प ने कहा कि जितना जरूरी शरीर का स्वस्थ रहना है, उतना ही जरूरी मन का स्वस्थ रहना है। इसके लिए किसी भी तरह के मानसिक तनाव से खुद को बचाना जरूरी है और कोई मानसिक तनाव होने पर तुरंत मनोचिकित्सक से जांच और उपचार करवाना चाहिए। डॉ. संकल्प ने शिविर में बताया कि मानसिक रोग के शिकार व्यक्ति बार-बार एक ही आदत को दोहराते रहते हैं। बार-बार हाथ धोना हो या फिर वाश रूम में एक घंटा बिताना हो या फिर बार-बार किसी चीज की गिनती करना हो, यह सभी मानसिक बीमारी की श्रेणी में आते हैं। इस मौके पर उनके साथ मेंटल हेल्थ के एमईओ रवि मलिक, कम्युनिटी नर्स अश्विन, स्टाफ नर्स रीना भी मौजूद रही। रवि मलिक ने बताया कि शिविर के समापन पर बच्चों को स्कूल बैग आदि बांटे गए। जींद में यह कार्यक्रम सिविल सर्जन डॉ. जयभगवान जाटान और डॉ. संकल्प के मार्गदर्शन में प्रभावी तरीके से चलाया जा रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस