जागरण संवाददाता, जींद: चुनावी रिहर्सल से गैरहाजिर रहने वाले कर्मचारियों के खिलाफ कड़ा संज्ञान लेते हुए चार कर्मचारियों को चार्ज शीट करने के आदेश दिये हैं। छह कर्मचारियों को आखिरी चेतावनी देकर भविष्य में चुनावी ड्यूटी को ठीक तरह से करने के निर्देश दिये हैं।

डीसी डॉ. आदित्य दहिया ने सोमवार को लघु सचिवालय जींद स्थित अपने कार्यालय कक्ष में एक अक्तूबर को हुई चुनावी रिहर्सल में अनुपस्थित रहने वाले कर्मियों की जन सुनवाई की। चुनावी पायलेट रिहर्सल में 41 कर्मी अनुपस्थित रहे थे। इन कर्मचारियों को स्थिति स्पष्ट करने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। डीसी ने अनुपस्थित रहने वाले कर्मियों की सुनवाई की गई। जो कर्मी जायज कारण की वजह से अनुपस्थित रहे थे, उन कर्मियों के लिए जारी किये गये नोटिसों का संतोषजनक जवाब मिलने पर उन्हें फाइल कर दिया गया है। जिन छह कर्मियों को आखरी चेतावनी देकर छोड़ा गया है, लेकिन इन कर्मियों की सेवा पुस्तिका में पायलेट रिहर्सल में अनुपस्थित रहने बारे टिप्पणी की जायेगी। डीसी ने स्पष्ट कहा कि चुनावी ड्यूटी में किसी प्रकार की लापरवाही एवं कोताही सहन नहीं की जाएगी। इसलिए सभी चुनाव कर्मी अपनी डयूटी को पूरी कर्तव्य निष्ठा से साथ निभाते हुए जिला में विधानसभा आम चुनाव को निष्पक्ष, पारदर्शी एवं व्यवस्थित तरीके से सम्पन्न करवाना सुनिश्चित करें। डॉ. आदित्य दहिया ने कहा कि चुनाव को सम्पन्न करवाने को लेकर पर्याप्त कर्मियों की ड्यूटियां लगाई गई हैं। डीसी ने कहा कि कई जिलों के मुकाबले में जींद जिला में नाम मात्र कर्मी ही चुनावी रिहर्सल से अनुपस्थित रहे हैं और बेहतरीन ढंग से अपना कार्य कर रहे हैं।

--मोबाइल पर कर सकते हैं बात

डीसी ने कहा कि जिले में विधानसभा चुनाव को निष्पक्ष, पारदर्शी तरीके से सम्पन्न करवाने के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा सामान्य व खर्च पर्यवेक्षक भी नियुक्त किये जा चुके है। पर्यवेक्षक चुनाव सम्बन्धित लोगों की समस्याएं भी सुन रहे हैं। कोई भी व्यक्ति जारी किये गये मोबाइल नम्बरों पर चुनाव पर्यवेक्षकों से बातचीत कर अपनी समस्या का समाधान करवा सकते है। इस अवसर पर नगराधीश विजेन्द्र सिंह, डीआईपीआरओ सुरेन्द्र कुमार वर्मा, उपायुक्त कार्यालय के सहायक सतीश भारद्वाज व सचिन भी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप