जींद: जींद विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए इनेलो ने मैदान में ताल ठोंक दी है। पार्टी नेता अभय ¨सह चौटाला 19 और 21 सितंबर को जींद हलके के सभी गांवों का दौरा करेंगे। हालांकि पार्टी की तरफ से प्रचार किया जा रहा है कि उनका यह दौरा गोहाना में 25 सितंबर के सम्मान दिवस समारोह को लेकर है। लेकिन जिले के पांच हलकों में से सिर्फ जींद हलके के दौरों से स्पष्ट है कि पार्टी का मुख्य फोकस आगामी उपचुनाव जीतने को लेकर है।

जींद विधानसभा सीट पर उपचुनाव को लेकर अभी सिर्फ कयास ही लगाए जा रहे हैं। कोई दिसंबर तो कोई फरवरी में उपुचनाव की बात कह रहा है। लेकिन पार्टी चुनाव आयोग की घोषणा से पहले ही अपने कार्यकर्ताओं और समर्थकों को चार्ज करने के लिए सक्रिय हो गई है। इनेलो ने अभय चौटाला के दो दिवसीय दौरों के पंफलेट तैयार किए हैं, उनमें सम्मान दिवस समारोह के निमंत्रण की बात कही जा रही है। जींद सीट पर दस साल से इनेलो का कब्जा है। हालांकि पिछले चुनाव में मोदी लहर में डॉ. मिढ़ा बहुत कम अंतर से जीत पाए थे। इसलिए अभय सबसे पहले मैदान में उतरकर इस सीट पर जीत पक्की करना चाहते हैं। अभय चौटाला 19 सितंबर को 17 गांवों और 21 सितंबर को 18 गांवों का दौरा करेंगे। पहले दिन लंच लोहचब और दूसरे दिन दरियावाला में करेंगे। सुबह 9 से शाम 6 बजे तक गांवों का दौरा करने के बाद रात को शहर में नुक्कड़ सभाओं के अलावा पार्टी समर्थकों के घरों पर जलपान भी करेंगे। अभय के दो दिन के तूफानी दौरों से स्पष्ट है कि पार्टी के दो बार विधायक रहे डॉ. हरिचंद मिढ़ा के निधन से खाली हुई सीट को दोबारा जीतने को लेकर पार्टी पूरी तरह गंभीर है। --दौरों का यह रहेगा शेड्यूल

इनेलो के जींद हलके के अध्यक्ष भूपेंद्र ¨सह जुलानी ने बताया कि अभय चौटाला 19 सितंबर को गांव ¨पडारा, निर्जन, मांडो, मनोहरपुर, बरसाना, खुंगा, लोहचब, तलौडा, खेड़ी, हैबतपुर, खोखरी, बोहतवाला, दालमवाला, रायचंदवाला, श्रीरागखेड़ा, कंडेला, अमरहेड़ी का दौरा करेंगे। 21 सितंबर को गांव अहिरका, कैरखेड़ी, रूपगढ़, जीतगढ़, झांज खुर्द, झांज कलां, बड़ौदी, बरसोला, दरियावाला, ढांडा खेड़ी, जाजवान, ईंटल खुर्द, ईंटल कलां, संगतपुरा, जुलानी, जलालपुर कलां, ईक्कस व जलालपुर खुर्द का दौरा करेंगे।

---------------------------------------

--चुनाव के इच्छुक भाजपा व कांग्रेस के नेता भी हुए सक्रिय

उपचुनाव लड़ने के इच्छुक भाजपा नेताओं ने भी सक्रियता बढ़ा दी है। पार्टी की तरफ से अभी तक टिकट के चार मुख्य दावेदार हैं। इनमें नजदीक से पिछला चुनाव हार चुके पूर्व सांसद सुरेंद्र ¨सह बरवाला, हाउ¨सग फेडरेशन के चेयरमैन डॉ. ओपी पहल, मुख्यमंत्री के निजी सचिव राजेश गोयल और पार्टी के प्रदेश सचिव जवाहर सैनी शामिल हैं। चारों नेताओं ने ग्राउंड पर काम शुरू करने के अलावा अपने आकाओं के पास भी हाजिरी लगानी शुरू कर दी है। सुरेंद्र बरवाला और डॉ. ओपी पहल ने गांवों के दौरे शुरू कर दिए हैं और शहर में भी जनसंपर्क बढ़ाना शुरू कर दिया है। राजेश गोयल के समर्थक भी जमीनी स्तर पर लोगों को अपने साथ जोड़ने में लगे हुए हैं। 16 सितंबर को ¨हदू कन्या कॉलेज में विवेकानंद फाउंडेशन के कार्यक्रम में राजेश गोयल विशिष्ट अतिथि होंगे। वहीं, जवाहर सैनी शहर ने शहर के वार्डों का दौरा करने के साथ मुख्यमंत्री के कार्यक्रमों में सक्रियता बढ़ा दी है। वहीं, उपचुनाव को देखते हुए ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर एक दिन पहले भारत बंद में जींद में शामिल हुए थे। पार्टी नेता प्रमोद सहवाग, रघुबीर भारद्वाज, सुरेश गोयत, सतपाल संगतपुरा, महावीर कंप्यूटर भी लोगों के बीच सक्रियता बढ़ा रहे हैं।

Posted By: Jagran