जागरण संवाददाता, जींद : सरकारी स्कूलों में शैक्षणिक सत्र बीतने को है, लेकिन अभी तक विभाग ने बच्चों की वर्दी का पैसा जारी नहीं किया। इस वजह से बच्चे वर्दी नहीं खरीद पाए। वहीं सर्दियों का सीजन चल रहा है, जिसके लिए जूते व गर्म कपड़े खरीदने में भी दिक्कत आ रही है।

प्रदेश सरकार कक्षा एक से आठ तक सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले सभी बच्चों को हर साल वर्दी खरीदने के लिए 800 रुपये देती है। हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ के प्रेस सचिव भूप¨सह वर्मा ने बताया कि सरकारी स्कूलों में ज्यादातर गरीब परिवारों के ही बच्चे आते हैं। उनके माता-पिता बच्चों के लिए वर्दी खरीदने में भी सक्षम नहीं हैं। विभाग की तरफ से भी पैसा नहीं मिला, जिस वजह से काफी बच्चे बगैर स्कूल ड्रेस के ही आते हैं। अब ठंड बढ़ गई है, जिससे बच्चों को ज्यादा परेशानी आ रही है।

-----------

जिले के करीब 60 हजार बच्चों का वर्दी का लगभग पांच करोड़ रुपये का बजट मंजूर हो चुका है। जल्द ही मुख्यालय से ये बजट सीधे स्कूलों को जारी किया जाएगा।

बीपी राणा, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी, जींद

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप