जागरण संवाददाता,झज्जर :

शनिवार को दिनभर बूंदाबांदी का सिलसिला जारी रहा। जिसका मौसम पर भी साफ असर देखने को मिला। बूंदाबांदी होने के चलते अधिकतम तापमान में दो डिग्री की गिरावट दर्ज की गई। जिसकी बदौलत अधिकतम व न्यूनतम तापमान का अंतर शनिवार को मात्र तीन डिग्री का ही दर्ज किया गया। शुक्रवार रात से ही बूंदाबांदी का सिलसिला शुरू हो गया था। जो शनिवार रात तक जारी रहा। दिनभर रुक-रुककर बूंदाबांदी होती रही। वहीं आगामी दिनों में भी इसका असर देखने को मिल सकता है। ठंड भी लोगों को ठिठुराने में कोई कसर नहीं छोड़ रही। बूंदाबांदी ने ठंड बढ़ाने का काम किया।

बूंदाबांदी को फसलों के लिए फायदेमंद माना जा रहा है। जिसके चलते किसानों के चेहरे भी खिले हुए है। हालांकि जलजमाव वाले एरिया के लिए बूंदाबांदी को अधिक अच्छा नहीं माना जा रहा। खासकर बेरी व डीघल एरिया के धान बिजाई वाले खेतों में। जहां जलस्तर पहले ही ऊंचा है। वहीं जिले के अन्य बरानी एरिया में फसलों के लिए बूंदाबांदी लाभदायक है। इससे फसलों की पैदावार भी बढ़ेगी। कृषि विभाग के तकनीकी सहायक डा. ईश्वर जाखड़ ने बताया कि बूंदाबांदी के चलते फसलों में पाला पड़ने की भी कम संभावना है। वहीं बूंदाबांदी फसलों के लिए अच्छी है, जिसका सीधा असर पैदावार पर पड़ेगा।

बाक्स :

बूंदाबांदी के कारण बिजली कट ने भी लोगों को परेशान किया। बूंदाबांदी से शहर के कई स्थानों पर फाल्ट होने की शिकायतें मिली। जिन्हें ठीक करने के लिए बिजली निगम के कर्मचारी शनिवार सुबह से ही जुट गए थे। शाम तक कड़ी मशक्कत के बाद फाल्ट को ठीक किया गया। जिसके बाद शहर की लाइट सुचारू हुई। वहीं फाल्ट होने के चलते शहर के कई हिस्सों में दिन के समय बत्ती गुल रही। हालांकि ठंड का मौसम होने के कारण लोगों को अधिक दिक्कत नहीं हुई।

अधिकतम व न्यूनतम तापमान का अंतर मात्र 3 डिग्री

बाक्स :

शनिवार को दिनभर बादल छाए रहने व बूंदाबांदी का सिलसिला जारी रहने के चलते अधिकतम व न्यूनतम का अंतर मात्र तीन डिग्री बच गया है। शनिवार को अधिकतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि शुक्रवार को अधिकतम तापमान 17 डिग्री व न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस रहा था। वहीं रविवार को अधिकतम तापमान 16 डिग्री व न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना जताई जा रही है। यह हुई बरसात

बाक्स :

खंड बरसात

झज्जर 4.4 एमएम

साल्हावास 3.2 एमएम

बेरी 0.5 एमएम

मातनहेल 5 एमएम

बहादुरगढ़ 4.6 एमएम

बादली 4.2 एमएम

कुल बरसात 21.9 एमएम

औसतन बरसात 3.65 एमएम

नोट : बरसात के आंकड़े 21 जनवरी सुबह 8 बजे से 22 जनवरी सुबह 8 बजे तक के हैं।

यह हुई बरसात

बाक्स :

खंड बरसात

झज्जर 9.5 एमएम

साल्हावास 5.5 एमएम

बेरी 1.2 एमएम

मातनहेल 4.1 एमएम

बहादुरगढ़ 2.2 एमएम

बादली 2.5 एमएम

नोट : बरसात के आंकड़े शनिवार सुबह 8 बजे से शाम चार बजे तक के हैं।

Edited By: Jagran