जागरण संवाददाता, झज्जर : पीटीआइ शिक्षक पिछले 48 दिनों से लघु सचिवालय में अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं। धरने के दौरान बहाली की मांग को लेकर पीटीआइ ने सरकार के खिलाफ रोष प्रकट करते हुए शहर में मोटरसाइकिल रैली निकाली। मोटरसाइकिल रैली में पीटीआइ के समर्थन में अन्य संगठनों ने भी भाग लिया। जहांआरा बाग स्टेडियम से लेकर लघु सचिवालय तक निकाली मोटरसाइकिल रैली के दौरान शहर में से गुजरते समय सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। वहीं शनिवार को पीटीआइ मुकेश देवी, संध्या, पूनम व सुनीता क्रमिक अनशन पर बैठी। उन्होंने कहा कि जब तक सरकार उनकी मांग नहीं पूरी कर देती तब तक वे धरना प्रदर्शन जारी रखेंगे। समय रहते सरकार ने ठोस कदम नहीं उठाया तो आंदोलन को तेज करेंगे।

पीटीआइ के धरना स्थल पर पहुंचे किसान सभा से प्रीत सिंह ने कहा कि पीटीआइ अपने हक की लड़ाई लड़ रहे हैं। सरकार को उनकी जायज मांग को मानते हुए वापस नौकरी पर रखा जाए। वहीं हजरस की नई कार्यकारिणी भी पीटीआइ को समर्थन देने पहुंची। सभी ने पीटीआइ को बहाल करने की मांग उठाई। वहीं बहाल नहीं होने तक पीटीआइ के समर्थन में खड़े रहने की बात कही। साथ ही सरकार को चेताया कि अगर सरकार ने पीटीआइ को बहाल नहीं किया तो इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। धरना प्रदर्शन की अध्यक्षता संघर्ष समिति के जिला प्रधान देवेंद्र शर्मा ने की। देवेंद्र शर्मा ने कहा कि पीटीआइ को द्वेष पूर्ण भाव से हटाया गया है, जो सरासर गलत है। सरकार के इस निर्णय को पीटीआइ किसी भी कीमत पर मंजूर नहीं करेंगे। अब वे सरकार की अनदेखी के चलते आंदोलन को तेज करने पर मजबूर हो रहे हैं। इसके तहत 5 अगस्त को मुख्यमंत्री का पुतला भी फूकेंगे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस