- डीसी श्याम लाल पूनिया ने कहा- संचित जल का किया जाए सदुपयोग फोटो : 09 जागरण संवाददाता, झज्जर : डीसी श्याम लाल पूनिया ने विभागाध्यक्षों को निर्देश दिए हैं कि वे सरकारी कार्यालयों में वाटर हार्वेस्टिग सिस्टम पर तत्परता से कार्य करते हुए बरसाती पानी को सही तरीके से संचय करने के प्रबंध करें तथा जल का सदुपयोग करें। उन्होंने कहा कि पानी मनुष्य की सबसे अहम आवश्यकता है और बरसाती पानी को संचय करके काफी हद तक इसे पूरा किया जा सकता है।

पूनिया ने झज्जर जिला के सभी विभागीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि जल शक्ति अभियान के तहत सभी को एक सकारात्मक दृष्टिकोण रखते हुए जल संरक्षण की दिशा में अपना योगदान देना है। सरकारी कार्यालयों में वाटर हार्वेस्टिग सिस्टम पर तत्परता से कार्य किया जाए ताकि बरसाती पानी का संचय करते हुए उसका सदुपयोग किया जा सके। डीसी ने निर्देश दिए कि बरसाती पानी को तालाबों तक लाने के लिए नाली अथवा अन्य संसाधनों का ठीक से रखरखाव किया जाए और दूषित पानी को ट्रीट करते हुए उसका सदुपयोग करने की दिशा में काम किया जाए। उन्होंने बरसाती पानी के भंडारण आदि विषयों पर बारीकी से पड़ताल करते हुए वन विभाग को अधिक से अधिक पौधारोपण करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने विभिन्न विभागों के अधिकारियों को विभाग से संबंधित प्रगति रिपोर्ट शीघ्र पोर्टल पर अपलोड करने को कहा। उन्होनें कहा कि जल संचय के लिए तैयार किए गए या तैयार किए जा रहे वाटर टैंक, तालाबों की मरम्मत के कार्य, विभिन्न विभागों के कार्यालयों, पंचायती भूमि और सड़क मार्गों पर लगाए गए पेड़ों की संख्या आदि विषयों पर पूरी सजगता से कार्य करने के लिए प्रेरित किया। इस अवसर पर जिला राजस्व अधिकारी बस्तीराम सहित अन्य संबंधित अधिकारीगण मौजूद रहे।

Edited By: Jagran