जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़: नए ट्यूबवेल कनेक्शनों को लेकर सरकार ने बिजली और पानी की बचत को ध्यान में रखकर शर्तें तय कर दी हैं। बहादुरगढ़ व बुपनिया में 150 नए कनेक्शन दिए जाने हैं। मगर इनके लिए किसानों को शर्तें पूरी करनी होंगी।

इन दोनों सब डिवीजन में 122 कनेक्शन पहले से हैं। अब सरकार ने नए कनेक्शनों के लक्ष्य तय किए हैं। तीन दिन पहले ही इस संबंध में सर्कुलर यहां पहुंचा है। मगर इस बार नए कनेक्शनों को लेकर शर्तें तय की गई हैं। हालांकि कृषि विभाग से लिए जाने वाले एक-दो प्रमाण पत्र किसानों को अबकी बार नहीं लेने होंगे, मगर बाकी शर्तें आवश्यक रूप से पूरी करनी होंगी, तभी उन्हें नए कनेक्शन मिलेंगे। इस बार ट्यूबवेल कनेक्शनों पर स्मार्ट मीटर लगेंगे। ये होंगी शर्त :

किसानों को अपने खेतों में फव्वारा सिचाई तकनीक अपनानी होगी। अगर कनेक्शन लेने का इच्छुक किसान धान उत्पादक क्षेत्र से संबंधित है तो उसे भूमिगत पाइप लाइन दबानी होगी। इतना ही नहीं किसानों को ट्यूबवेल पर फाइव स्टार मार्का पंप सैट लेना होगा। इन तीनों शर्ताें को पूरा करने के लिए निगम ने कुछ एक चुनिदा डीलर ही चिह्नित किए हैं, जिनसे किसानों को यह सामान खरीदना होगा। इन शर्ताें को लगाने का उद्देश्य है कि बिजली व पानी की बचत हो। फव्वारा तकनीक से जरूरत के पानी का ही दोहन होगा और कम पानी के खर्च से सिचाई कार्य हो सकेगा। दूसरा, फाइव स्टार मार्का पंप सेट में बिजली का खर्च कम होगा। किसानों की ओर से नए ट्यूबवेल कनेक्शनों के लिए पैसे जमा कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। शर्त पूरी करने के बाद किसानों को नए कनेक्शन दे दिए जाएंगे।

--रामपाल, कार्यकारी अभियंता, बिजली निगम, बहादुरगढ़

----------------------------------

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप