हांसी (हिसार), संवाद सहयोगी। हांसी के गांव कंवारी में एक युवक ने रुपये के लेनदेन के मामले को लेकर फंदा लगाकर आत्महत्या कर दी। मृतक के पास से पुलिस ने एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है, जिसमें उसने अपनी मौत के लिए सुल्तानपुर गांव के रहने वाले एक युवक को दोषी बताया है। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया है। इस मामले में पुलिस ने आरोपित के खिलाफ धारा 306 के तहत मामला दर्ज किया है।

पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार

जानकारी के अनुसार कंवारी गांव निवासी 38 वर्षीय राजेश शाम को 5 बजे के करीब खेतों में पेड़ से फंदा लगा लिया। मृतक राजेश के भाई आजाद ने पुलिस को बयान दर्ज करवाते हुए बताया कि उसका छोटा भाई कल सुबह 7 बजे अपने घर से खेत में पानी लगाने के लिए गया था। जब आजाद अपने भाई को देखने के लिए खेत में गया तो वह खेत में नहीं मिला। उसके बाद उन्होंने आसपास के खेतों में देखा तो पास लगते खेत में पेड़ से फंदा लगा रखा था। उसके बाद इसकी सूचना उन्होंने परिवार को व पुलिस को दी।

मौके पर पुलिस ने पहुंच कर राजेश को नीचे उतारा और उसकी तलाशी ली। जिसके बाद मृतक राजेश की जेब से एक सुसाइड नोट मिला। जिसमें लिखा था सुल्तानपुर निवासी जोगिंदर उसके पैसे नहीं दे रहा। जिसके कारण राजेश ने परेशान होकर सुसाइड कर लिया। मृतक के भाई आजाद ने बताया कि राजेश ने सुल्तानपुर निवासी जोगिंदर ने राजेश के पैसे ना देने के कारण उसने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

मामले के जांच कर रहे सदर थाने के जांच अधिकारी कुलदीप ने बताया कि हमें सूचना मिली थी कि गांव कुंवारी के पास एक युवक ने फांसी लगा ली है। उसके बाद सीन आफ क्राइम की टीम को बुलाया गया और उसको नीचे उतार कर जांच की गई तो उसकी जेब में से एक सुसाइड नोट मिला। बता दें कि राजेश का एक लड़का और एक लड़की है। परिजनों ने बताया कि राजेश और जोगिंदर ब्लाक की फैक्ट्री चलाते थे, जिसमें दोनों की हिस्सेदारी थी और उन्हीं रुपये का लेनदेन था। जिस कारणवश राजेश ने परेशान होकर फांसी लगा ली।

Edited By: Naveen Dalal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट