हिसार, जेएनएन। डाबड़ा चौक पर ट्रैफिक लाइटों को लगे दो दिन का समय हो गया है। मगर अभी तक लाइटों की टाइ¨मग सेट नहीं होने से चौक पर लंबा जाम लग रहा है। डाबड़ा चौक पर दिल्ली रोड की तरफ लगी रेड लाइट की टाइ¨मग 60 सेकेंड की है और ग्रीन लाइट की 42 सेकेंड की। इसके कारण दिल्ली रोड पर लंबा जाम देखने को मिल रहा है। इतना ही नहीं रेड लाइट के कारण डाबड़ा पुल से कैंप चौक तक वाहनों की कतार लगी रही। इसका कारण है कि डाबड़ा पुल से शहर से बाहर जाने वाले वाहन भी सीधे निकलने के बजाय तोशाम रोड की ओर जाने वाले वाहनों के पीछे फंस रहे हैं।

इसके कारण सबसे ज्यादा दिक्कत हो रही है। जाम लगने के कारण दिनभर वाहन चालक व ट्रैफिक पुलिस परेशान होती रही। वाहन चालकों को समझाने के लिए पांच से छह होमगार्ड स्पेशल लगाए गए हैं। दिनभर होम गार्ड वाहन चालकों को समझाते रहे। दिल्ली रोड से शहर की ओर जाने वाले वाहन 42 सेकेंड के ग्रीन सिग्लन में उलझ रहे हैं। वहीं डाबड़ा पुल से शहर से बाहर जाने वाले वाहन भी 42 सेकेंड के ग्रीन सिग्नल में उलझकर परेशान हो रहे हैं। यही हाल शहर के व्यस्त लक्ष्मीबाई चौक का है। यहां भी रेड लाइट का समय 60 सेकेंड और ग्रीन सिग्नल का समय सिर्फ 35 सेकेंड का है, इसके कारण यहां भी अकसर जाम लगा रहता है।

यह हो सकता है समाधान

(ट्रैफिक एसआइ तिलकराज के अनुसार) - डाबड़ा चौक पर दिल्ली रोड और पुल से उतरते समय ग्रीन लाइट और रेड लाइट की टाइ¨मग को एक समान किया जाए। - डाबड़ा चौक को ट्रैफिक लाइट के भरोसे न छोड़कर हर रास्ते पर दो-दो होमगार्ड की स्पेशल ड्यूटी लगाई जाए। - डाबड़ा चौक पुल से तोशाम रोड की तरफ जाने वाले वाहनों की अलग लेन हो ताकि दिल्ली रोड जाने वाले वाहन पीछे जाम में न फंसे। - लक्ष्मीबाई चौक पर आइजी चौक से आने वाले वाहनों की रेड लाइड और ग्रीन लाइट की टाइ¨मग बराबर हो।

तीन स्थानों पर पहली बार लगीं लाइटें, एक स्थान पर बदलकर लगाई नई

नगर निगम की टीम ने डाबड़ा चौक पुल के अंतिम प्वाइंट के नजदीक सिग्नल लाइट लगाई हैं। वहीं बरवाला चुंगी पर पड़ाव की तरफ जाने वाले मार्ग के शुरुआती प्वाइंट पर सिग्नल बत्ती लगी है। इसके बाद आधार अस्पताल के पास नहर के नजदीक बत्ती लगाई है। वहीं आइजी चौक पर सिग्नल बत्ती कई दिनों से बंद थी, जिसके कारण यातायात व्यवस्था बाधित हो रही थी और वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। ऐसे में नगर निगम की टीम ने आइजी चौक खराब लाइटें हटाकर नई बत्ती लगाई हैं।

40 लाख की लागत से लगी हैं सिग्नल लाइटें

नगर निगम ने शहर में 50 लाख रुपये का बजट तय कर सिग्नल लाइट लगाने का फैसला लिया था। इसके बाद निगम टीम ने टेंडर किया तो वह माइनस में रहा। ठेकेदार ने करीब 40 लाख रुपये की लागत से शहर के इन प्वाइंटों पर लाइटें लगाई हैं।

----- लाइटों की टाइ¨मग ठीक करवाने के लिए शनिवार को ट्रैफिक पुलिस व नगर निगम के अधिकारियों से मुलाकात करेंगे। शहरवासियों को जाम से निजात दिलाई जाएगी। मैंने इससे पहले भी राजगढ़ रोड स्थित साउथ बाईपास की लाइटों की टाइ¨मग को ठीक करवाया था।

- जितेंद्र श्योराण, प्रधान, आरडब्ल्यूए सेक्टर 16-17।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस