सिरसा, जेएनएन। मन में कुछ हासिल करने का जुनून हो तो क्‍या नहीं हो सकता। भले ही सपने बड़े हों मगर उन्‍हें सच साबित करके दिखाया जा सकता है। सिरसा की बेटी कंचन सिंगला ने ये साबित कर दिखाई है। सिरसा की कोर्ट कॉलोनी निवासी चार्टर्ड अकाउंटेंट अनिल सिंगला की बेटी कंचन ने यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन यूपीएससी की परीक्षा में ऑल इंडिया में 35वां रैंक हासिल किया है। 24 वर्षीय कंचन ने यूपीएस की दूसरी बार परीक्षा दी। पहली बार की परीक्षा में गत वर्ष इंडियन रेलवे पर्सनल सर्विस में चयन हुआ। यहां से छुट्टी लेकर यूपीएससी की तैयारी की। कंचन एनएलयू दिल्ली से ला ग्रेजुएट है। वहां पर भी कंचन ने सात गोल्ड मेडल पाकर विश्वविद्यालय में प्रथम स्थान हासिल किया था।

कंचन ने अपनी इस उपलब्धि का श्रेय अपनी कठोर मेहनत एवं दादी ब्रम्हाकुमारी शांति माता, माता-पिता व परिवारजनों को दिया है। कंचन की इस सफलता से परिवार में खुशी है। जैसे ही परीक्षा परिणाम घोषित हुआ कंचन खुशी से झूम उठी और कंचन व उसके परिजनों को बधाई देने वालों का तांता लग गया।

आइएएस बनने का रहा सपना

कंचन ने कहा कि उसका सपना आइएएस बनने का था। इसके लिए सकारात्मक सोच के साथ अध्ययन किया। परीक्षा से संबंधित विषयों के लिए टाइम टेबल बनाया गया ताकि एकाग्रता के साथ तैयारी की जा सके। परीक्षा को लेकर कभी मन में तनाव नहीं रखा। परिवार के सभी सदस्यों ने उसे आगे बढ़ने का हौसला दिया। उसे डांस व साइक¨लग का शौक रहा है।

महिला शिक्षा के लिए करूंगी कार्य

कंचन ने कहा कि आइएएस बनने के बाद शिक्षा के लिए कार्य करूंगी। महिला शिक्षा को बढ़ावा देने का कार्य किया जाएगा। आज के समय भी बहुत सी छात्राएं उच्च शिक्षा हासिल नहीं कर पाती है। यह बहुत ही विचारणीय विषय है। इस क्षेत्र में अभी भी कार्य करने की जरूरत है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस