संवाद सहयोगी, मंडी आदमपुर: गांव चूली खुर्द निवासी किसान नेता व पगड़ी संभाल जट्टा के जिला अध्यक्ष सतीश बैनीवाल को गांव में नशे का धंधा करने वाले युवकों ने जान से मारने की धमकी देने के मामले में पुलिस ने दो आरोपितों को नामजद किया हैं। इससे पहले धमकी मिलने के बाद सतीश बैनीवाल के समर्थन में गांव के सैकड़ों लोगों ने आदमपुर थाने पहुंचकर दोनों युवकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए पुलिस को शिकायत दी थी। पुलिस ने सतीश बैनीवाल व ग्रामीणों की शिकायत पर दोनों युवकों को नामजद करते हुए विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया हैं। पुलिस को दी शिकायत में गांव चूली खूर्द निवासी सतीश बैनीवाल ने बताया कि वह गांव चूली कलां बस अड्डे पर जय बालाजी बीज भंडार के नाम से खाद बीज व दवाइयों की दुकान करता हैं व पगड़ी संभाल जट्टा समिति का जिला हिसार का अध्यक्ष है। सतीश ने शिकायत में बताया कि उसने गांव वासियों के सहयोग से की नशा विरूद्ध कमेटी बनाई हुई है और उस कमेटी का वह अध्यक्ष हैं। कमेटी के सभी सदस्य गांव व आस-पास के गांवों में नशा रोकने के संबंध में अभियान चलाए हुए हैं व लोगों व युवाओं को नशा न करने के प्रति जागरूक कर हैं। मंगलवार को सुबह पौने 10 बजे उसके दुकान पड़ोसी चाय का ढाबा करने वाले कुलदीप के मोबाइल पर फोन आता हैं और फोन करने वाला अपने आप को गांव चूली कलां निवासी कुलदीप बताता हैं और उसने कहा कि अपने पड़ोसी सतीश बैनीवाल से बात करवाओं तब ढाबे वाले कुलदीप ने उसके पास आकर कहा कि गांव का ही कुलदीप तुम्हारे से कोई बात करना चाहता हैं। जब उसने फोन पर बात की तो कुलदीप ने कहा कि तू बड़ा नशा मुक्ति अभियान चला रहा है और तेरे को हम 5-7 दिन में जान से मार देंगे और तेरे परिवार को भी खत्म कर देंगे। इसके बाद कुलदीप ने उसी फोन से उसकी बात चूली खूर्द निवासी विजेन्द्र उर्फ धोलु हाल आबाद दड़ौली रोड मंडी आदमपुर से करवाई। विजेंद्र ने कहा कि तुमने हमारा 10 लाख रूपये का नुकसान किया हैं इसलिए उनको 10 लाख रुपये चाहिए नहीं तो तुझे व तेरे परिवार के सदस्यों को जान से मार देंगे। इतना ही नहीं उन लोगों ने उसके परिवार के बारे में अभद्र भाषा का प्रयोग किया। सतीश ने बताया कि जब कुलदीप का फोन आया उस समय उसके पास कमेटी के सदस्य चूली कलां निवासी प्रताप बैनीवाल, राजेश बैनीवाल, सुभाष बैठे थे। सतीश बैनीवाल ने बताया ये दोनों कुलदीप व विजेंद्र अपराधी प्रवृति के है इन लोगों से उसे व उसके परिवार को जान का खतरा है। पुलिस ने सतीश बैनीवाल व अन्य कमेटी के सदस्यों की शिकायत पर कुलदीप व विजेंद्र के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं।

Edited By: Jagran