जागरण संवाददाता,झज्जर : विद्यार्थियों के पास अब आइटीआइ (औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान) में दाखिले के लिए अंतिम अवसर बचा हुआ है। आइटीआइ में दाखिले से पूर्व विद्यार्थियों को आनलाइन आवेदन करना अनिवार्य है। अगर कोई विद्यार्थी आनलाइन आवेदन नहीं करता है तो वह दाखिले से भी वंचित रह सकता है। इसलिए सभी विद्यार्थियों को आनलाइन आवेदन करने के लिए कहा जा रहा है। विद्यार्थियों के पास 29 दिसंबर तक ही आनलाइन आवेदन करने का समय है।

फिलहाल आवेदन के लिए पोर्टल खुला हुआ है। जो 29 दिसंबर के बाद बंद हो जाएगा। ऐसे में जो विद्यार्थी आनलाइन आवेदन करने से वंचित रहता है, वह दाखिले से भी वंचित रह सकता है। जिन विद्यार्थियों ने पहले आवेदन किया हुआ है, उन्हें दोबारा आवेदन करने की आवश्यकता नहीं हैं।

राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में संस्थान स्तर पर आन दा स्पाट दाखिला प्रक्रिया चल रही है, जो 31 दिसंबर तक प्रतिदिन जारी रहेगी। दाखिला नए एवं पुराने आवेदनों कि सयुंक्त मेरिट के आधार पर किया जाएगा। इसके बाद किसी भी प्रार्थी को दाखिला नहीं मिल पाएगा। आईटीआई में सत्र 2021-22 में दाखिला लेने के लिए यह अंतिम मौका बचा हुआ है। हालांकि दाखिले में कोई आरक्षण लागू नहीं होगा। अगर किसी विद्यार्थी ने आवेदन नहीं किया है तो वे सबसे पहले 29 दिसंबर तक आनलाइन आवेदन करें।

नए आवेदनों के लिए पोर्टल खुला है। जो विद्यार्थी आइटीआइ में दाखिला से वंचित रह गए, वे इस अवसर का लाभ उठा सकते है। दाखिला से संबंधित दिशा-निर्देश, संस्थानों एवं दाखिले के लिए ट्रेड की सूची वेबसाइट पर भी उपलब्ध है।

फिलहाल आन दा स्पाट दाखिले के लिए विद्यार्थी को आइटीआइ में खुद उपस्थित होगा। विद्यार्थी जिस संस्थान में दाखिला लेने के इच्छुक है, उसमें सुबह 11 बजे तक अपना मेरिट कार्ड जमा करवाना होगा। इसके बाद नए व पुराने आवेदनों की संयुक्त मेरिट सूची बनाई जाएगी। जिसके आधार पर विद्यार्थियों को दाखिला मिलेगा। मेरिट सूची में नाम आने वाले विद्यार्थी को सभी मूल प्रमाणपत्रों की वेरिफिकेशन के पश्चात मौके पर फीस जमा करवाकर दाखिला लेना होगा। फीस जमा करवाने के लिए आनलाइन व आफलाइन दोनों विकल्प दिए हैं।

Edited By: Manoj Kumar