हिसार, जेएनएन। न्‍यू मोहर व्‍हीकल एक्‍ट लागू होने के बाद जहां देशभर के कई राज्‍यों में भारी भरकम चालान काटे जा रहे थे, वहीं हरियाणा में पुलिस ने तीन दिनों तक चालान नहीं किए जाने और फूल देकर जागरूक करने की एक अनोखी पहल शुरू की। मगर अब उस पहल का आज आखिरी दिन है। ऐसे में कल से चालान किए जाएंगे। अब जिस भी वाहन चालक के पास पूरे दस्‍तावेज नहीं होंगे, उन पर गाज गिरने वाली है। बीते दो दिनों में भी पुलिस डीएसपी के साथ मिलकर चौक चौराहों पर लोगों को जागरूक करने की मुहिम चलाई थी।

हिसार ट्रैफिक एसएचओ शमशेर सिंह ने सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूक होने का संदेश देते हुए कहा कि वह यातायात नियमों का पालन केवल मात्र चालान से बचने के लिए ही न करें बल्कि अपनी और दूसरों की जान बचाने के लिए भी करें। लोग फूल तो ले रहे थे मगर कुछ लोगों के लिए शर्म महसूस करने का पल भी था, ऐसे में उम्‍मीद है कि लोग अपने वाहनों के दस्‍तावेज पूरे करवाएंगे।

नियम उल्‍लंघन                      चालान संख्‍या
रॉन्ग साइड ड्राइविंग                        40
सीट बेल्ट न बांधना                         28
बिना हेलमेट                                  37
रॉन्ग पेटर्न नंबर प्लेट                      16
बिना नंबर प्लेट                              02
बिना दस्तावेज                               09
शराब पीकर  ड्राइविंग                      05
ओवर स्पीड ड्राइविंग                       04

नाबालिग ने वाहन चलाया तो लगेंगे 25 हजार

नाबालिग बच्चे अगर वाहन चलाते पकड़े गए तो उनके अभिभावकों या वाहन मालिक पर 25 हजार रुपये जुर्माना होगा। साथ ही तीन साल की सजा और वाहन का रजिस्ट्रेशन रद हो सकता है। नाबालिग के खिलाफ जेजे एक्ट के तहत मामला दर्ज हो सकता है।

एंबुलेंस को साइड न देना भी पड़ेगा महंगा

अक्सर हम देखते हैं कि सड़क पर एंबुलेंस हूटर बजाती रहती है और वाहन चालक उसे साइड नहीं देते। जिस कारण अनेक बार एंबुलेंस में सवार वाहन चालक की जान चली जाती है या जान पर बन आती है। नए मोटर व्हीकल एमेंडमेंट बिल में एंबुलेंस को रास्ता न देने पर दस हजार रुपया जुर्माना निर्धारित किया गया है। जबकि पहले कुछ भी जुर्माना नहीं था।

नियम                                    जुर्माना पहले        अब
सीट बेल्ट                                    100               1000
तीन सवार                                   100              1000
हेलमेट                                       200               1000 व तीन माह के लिए लाइसेंस निलंबित
एंबुलेंस को रास्ता न देना                00                10000
बिना लाइसेंस                              500               5000
लाइसेंस रद्द होने के बाद ड्राइविंग    500                10000
ओवरस्पीड                                 500               1000 लाइट व्हीकल, बाकि 2000
हेवी व्हीकल खतरनाक ड्राइविंग     1000              5000
शराब पीकर ड्राइविंग                    2000             10000
मोबाइल यूज                              1000              5000
बिना परमिट वाहन                     5000             10000
गाड़ी ओवरलोड सवारी वाहन          00                1000 रुपये प्रति अतिरिक्त यात्री
गाड़ी ओवरलोड माल वाहन            2000     उसके बाद प्रति टन एक हजार, 2000 प्रति टन दो हजार
बिना बीमा                                 1000                2000
नाबालिग ड्राइविंग                      1000              25 हजार

पहले, दूसरे ओर तीसरे अपराध पर अलग अलग जुर्माना

पहली बार नियम तोडऩे पर कम जुर्माना तो दूसरी बार और तीसरी बार नियम तोडऩे पर सजा और जुर्माना राशि बढ़ सकती है। जो वाहन चालक एक या दो बार नियम तोडऩे पर पकड़े जाने के बाद भी नहीं सुधरेंगे उनके न केवल लाइसेंस पंच होने के साथ साथ जब्त होंगे बल्कि वह भविष्य में कभी वाहन नहीं चला सकेंगे।

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस