जागरण संवाददाता, रोहतक : माडल टाउन चौकी के सामने बने माल के गेट से शहर के एक व्यापारी व उसके नौकर का अपहरण कर लिया गया। नौकर किसी तरह से आरोपितों के चुंगल से बच निकला। जिसने व्यापारी के घर पहुंच कर उसके पिता को पूरी बात बताई। पीड़ित के पिता की शिकायत पर सिविल लाइन थाना पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

सिविल लाइन थाना पुलिस को दी शिकायत में घिलौड़ निवासी सुधीर ने बताया कि वह राजेंद्रा कालोनी निवासी संजय के पास नौकरी करता है। रविवार शाम को करीब चार बजे संजय ने उससे कहा कि आफिस बंद करो, घर चलते हैं। वे आफिस बंद कर जैसे ही बाहर आए तो वहां पर कलायत निवासी तरसेम छह-सात लड़कों के साथ वहां पर पहुंचा। संजय को उसी की अमेज कार में पकड़ कर बैठा लिया व उसे दूसरी कार में डाल दिया।

उसके बाद आरोपित गाली गलौच व मारपीट करते हुए दिल्ली बाईपास, रुपया चौक झज्जर रोङ तथा वहां से वापस दिल्ली बाईपास होते हुए सोनीपत रोङ बोहर पुल होते हुए गोहाना रोङ गोल चक्कर के पास पहुंचे। जहां पर उन्होंने गाङी रोक दी और बदलने के लिए बातचीत करने लगे। तभी वह मौका पाकर वहां से भाग निकला। आरोपित रास्ते में एक युवक का नाम सुमित ले रहे थे।

वहां से वह सीधा संजय के मकान राजेन्द्रा कालोनी पहुंचा, जहां पर संजय के पिता राजबीर को सारी बात बताई। पीड़ित की शिकायत मिलते ही सिविल लाइन थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने व्यापारी को बरामद करने क लिए काफी स्थानों पर छापेमारी की है, लेकिन अभी तक कोई ठोस सुराग हाथ नहीं लगा है। व्यापारी का अपहरण होने के बाद परिवार के लोग अनहोनी की आशंका से खौफजदा हैं।

व्यापारी की तलाश में छापेमारी की जा रही है। जल्द ही व्यापारी को बरामद कर लिया जाएगा। दो आरोपितों को मामले में नामजद कर लिया गया है।

रामनिवास, जांच अधिकारी, सिविल लाइन थाना रोहतक।

Edited By: Manoj Kumar