रोहतक [अरुण शर्मा] कोरोना वायरस ने चीन के साथ ही इससे सटे देशों को अपनी चपेट में ले लिया है। इस वायरस के कारण दक्षिण कोरिया, वियतनाम व थाईलैंड में पर्यटन कारोबार 80 फीसद तक ठप हो गया है। वहीं स्कूलों में भी छुट्टियां कर दी गई हैं। यह बात रोहतक के सेक्टर-1 में श्रीराम सरन दास भ्याना मेमोरियल ट्रस्ट के कार्यक्रम में इन देशों से पहुंचे कारोबारियों ने बताई है। उन्होंने कोरोना वायरस के असर को व्यापक बताते हुए कहा कि इसने पूरी अर्थव्यवस्था को बेहाल कर दिया है। भारत की सभी को गले लगाकर स्वागत करने की संस्कृति इन्हें पसंद आई है। योग और शाकाहार को यहां की ताकत बताया।

थाईलैंड में पर्यटन कारोबार चौपट, मैनुफैक्चरिंग सेक्टर को फायदा

थाईलैंड के कारोबारी बोचांई अपनी पत्नी जीरावन और बेटे चेयना के साथ यहां पहुंचे हैं। इन्होंने थाईलैंड व भारत की संस्कृति और भगवान लगभग एक होने की बात कही। भगवान गणेश, मां सरस्वती को इन्होंने अपना आराध्य बताया। बोचांई ने कहा कि पर्यटन के कारोबार की रीढ़ टूट रही है। हालांकि मैनुफैक्चरिंग सेक्टर को फायदा हुआ है। चीन से मैनुफैक्चरिंग के आर्डर रद होने से उद्यमियों ने थाईलैंड का रुख किया है।

कोरिया में आटोमोबाइल, स्टील, इलेक्ट्रानिक इंडस्ट्री बेहाल

दक्षिण कोरिया की लीज हान ने बताया कि कोरोना वायरस के कारण स्टील उद्योग, इलेक्ट्रानिक, आटोमोबाइल और आइटी उद्योग पूरी तरह से डगमगा गया है। इन उद्योगों के लिए 80 फीसद माल चीन से मंगाया जाता था। वहीं कोरिया में जेनू आइलैंड पर चीन के लोग बिना वीजा के यहां आ सकते थे। मगर कोरोना के कारण वीजा लागू कर दिया। अब चीन से आने वाली फ्लाइट में नाममात्र के ही यात्री आ रहे हैं। वियतनाम से पहुंचे केन ने बताया है कि हमारे यहां स्कूल तक बंद हैं। बाहर जाने और आने वालों का टेस्ट हो रहा है।

एयरपोर्ट पर टेस्ट के बाद ही मिली एंट्री

ट्रस्ट के रमेश अहलावत ने बताया है कि कार्यक्रम में चीन, ताइवान व ङ्क्षसगापुर के प्रतिनिधियों को भी पहुंचना था। मगर चीन और ताइवान के प्रतिनिधियों का वीजा रिजेक्ट हो गया था। ङ्क्षसगापुर के प्रतिनिधि का वहां एयरपोर्ट पर चेकअप हुआ तो बुखार की शिकायत मिलने पर वापस भेज दिया गया। कोरिया, वियतमान और थाईलैंड के प्रतिनिधि शुक्रवार को ही रोहतक आ गए थे। इनका भी मेडिकल चेकअप किया गया। जांच रिपोर्ट सही मिलने पर ही इन्हें भारत आने की मंजूरी मिली।

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस