हिसार, जेएनएन। तीन दिनों से गर्मी और उमस के बाद मौसम ने करवट बदली है। अब तीन जुलाई तक मौसम परिवर्तनशील बना रहेगा। भिवानी में कांग्रेसी नेता ने पत्‍नी की हत्‍या कर दी। एक बहन के तीनों भाईयाें की मौत हुई तो ग्रामीणों ने खुद भात भरा, कॉलेजों में 2 जुलाई को पहली कट ऑफ लिस्‍ट लगेगी। एक छात्रा ने पराली को घर की साज सजावट बना दिया। फुटओवर ब्रिज पर एस्‍केलेटर नहीं लगाने के संकेत सामने आए हैं। फटाफट विस्‍तृत खबरें जाने एक नजर में।

 दिनभर गर्मी और उमस से रहे बेहाल, अब बारिश शुरू

बीते तीन दिनों से गर्मी और उमस के मारे लोग बेहाल थे। वहीं शाम होते ही राहत की खबर आई। भिवानी के आस पास रविवार दिन में हल्‍की बूंदाबांदी हुई तो वहीं अब मौसम विभाग ने रात आठ बजे तक आस पास हिसार, भिवानी , सिरसा, फतेहाबाद, झज्जर,महेंद्रगढ़, रेवाड़ी,फरीदाबाद, पलवल, गुरुग्राम, मेवात  जिलों में व आसपास के क्षेत्रों में कहीं- कहीं  हवायो व गरज चमक  के साथ बूंदाबांदी या हल्की बारिश की संभावना जताई है। हिसार में शाम छह बजे बूंदाबांदी शुरू भी हो गई। कृषि मौसम विज्ञान विभाग हकृवि हिसार के अनुसार क्षेत्र में 3 जुलाई तक मौसम आमतौर पर परिवर्तनशील रहने व बीच-बीच में आंशिक बादल व कहीं कहीं छिटपुट बूंदाबांदी या हल्की बारिश संभावित।

कांग्रेसी नेता ने पत्‍नी की कर दी हत्‍या, बोला खुद मरी है

भिवानी में कांग्रेसी नेता द्वारा अपने साथी नेता व उसकी पत्नी के साथ मिलकर अपनी शिक्षक पत्नी की गला घोंटकर हत्या करने का मामला सामने आया है। मृतका प्राइमरी शिक्षिका थी। उसके पिता ने पुलिस को दिए बयान में आरोप लगाए कि पैसों के लालच में वारदात को अंजाम दिया गया है। मृतका के पिता की शिकायत पर पुलिस ने उक्त तीनों आरोपित के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। बताया जाता है कि आरोपित कांग्रेस नेता बाढड़ा हलके से कांग्रेस के टिकट का दावेदार था। पुलिस को दी शिकायत में बास अकबरपुर निवासी अजमेर ने बताया कि उसने अपनी बेटी रेखा (30) की शादी नवंबर 2011 में सिंघानी के सुनील के साथ की थी। दंपती अपने बेटा-बेटी संग न्यू हाउसिंग बोर्ड में रहता था। सुनील अपने साथी कांग्रेस नेता व शराब कारोबारी जगदीप व उसकी पत्नी सुनीता के कहे अनुसार कार्य करता है। वह अपनी ससुराल व रिश्तेदारों से लेकर करीब 1 करोड़ 82 लाख रुपये उक्त दंपती को दे चुका था। इस कर्ज का पूरा बोझ रेखा के कंधों पर था।

तीनों भाईयों की मौत हुई तो ग्रामीणों ने भरा भात

हिसार जिले के बुड़ाक गांव ने बिन भाइयों की बहन की बेटियों की शादी में पूरे गांव ने एक लाख रुपये खर्च कर भात भरा है। जो लोग शादी में नहीं जा सके उन्‍होंने अपनी क्षमता के अनुसार शगुन भेजा है। पूरे गांव के मौजिज लोगों को देखकर बहन के खुशी के मारे आंसू छलक गए। गांव बुड़ाक वासी भागा देवी की शादी 20 साल पहले राजस्‍थान के गांव रेजड़ी में हुई थी। शादी के कुछ साल बाद उसके माता पिता की बीमारी के कारण मौत हो गई। इसके कुछ समय बाद तीनों भाई भी चल बसे। भागा देवी के मायके में एक भी सदस्‍य नहीं बचा। 15 साल पहले माता की मौत के तीन साल बाद बड़े भाई बिल्‍लू, इसके पांच साल बाद दूसरे भाई धर्मपाल, एक महीने बाद पिता धर्मपाल और इसके चार साल बाद बचे सबसे छोटे भाई जगदीश की मौत हो गई। तीनों भाई अविवाहित थे।

विधायक से मेयर ने की बात, 2.39 करोड़ के एस्‍केलेटर नहीं लगाने के दिए संकेत

बस स्‍टैंड के पास तलाकी गेट पर बने फुटओवर ब्रिज पर एस्केलेटर लगने को लेकर अब संशय बना हुआ है। पैसा बर्बाद हो इस लिए प्रोजेक्ट के दोबारा रिव्यू के विधायक ने संकेत दे दिए है। विधायक डा. कमल गुप्ता के विदेश से आने के बाद नगर निगम मेयर गौतम सरदाना ने उनसे बातचीत की। अब इस प्रोजेक्ट पर दोबारा से रिव्यू किया जाएगा। एस्केलेटर पर दो करोड़ 39 लाख रुपये का पैसा लगाया जाना है। उसके सामान जॉनसन कंपनी की तरफ से सामान भी हिसार पहुंचा दिया गया। शहर के लोगों की तरफ से इस पैसों की बर्बादी ना हो। दैनिक जागरण की तरफ से इस मुद्दे को 21 जून से लगातार उठाया जा रहा है। कांग्रेस राज में पांच साल पहले तलाकी गेट पर फुट ओवर ब्रिज का निर्माण किया था। उस पर करीब डेढ़ करोड़ रुपये खर्च किए गए थे। उस ब्रिज के बनने के बाद लोग उस पर नहीं चढ़े।

पराली को बना दिया घरों की रौनक

जिस पराली को हर कोई समस्‍या समझता है एक छात्रा ने उसे समाधान देते हुए नया तरीका इजाद किया है। ज्यादातर किसान धान निकालने के बाद पराली को बेकार समझकर फेंक देते हैं या फिर उसे जला देते हैं। इससे न केवल पर्यावरण प्रदूषित होता है, बल्कि इसके धुएं से दमा, श्वास आदि के मरीजों को भी काफी परेशानी होती है। मगर पंडित लख्मीचंद विश्वविद्यालय के टेक्सटाइल विभाग की छात्रा रवीना ने इस समस्‍या का तोड़ ढूंढ निकाला है। पराली से खाद बनाने या सिलिका काे नष्‍ट करने की विधि सामने आने की बात तो होती रहती है मगर छात्रा इस पराली से स्पा मैट और साज-सज्जा के अन्य सामान बना रही है। मूल रूप से हिसार के गांव कोट खुद निवासी रवीना की यह कारीगरी विदेशियों को भी काफी भा रही है। उनके पास विदेशों से मैट, होम डेकोरेशन और शोपीस के लिए लगातार ऑर्डर आ रहे हैं।

कॉलेजों में 2 जुलाई को लगेगी पहली कट ऑफ लिस्‍ट

28 जून दस्तावेजों के वेरिफिकेशन करवाने का अंतिम दिन था। दोपहर 12 बजे तक वेरिफिकेशन कार्य होना था लेकिन युवाओं को राहत प्रदान करने के लिए हायर एजुकेशन विभाग की ओर से समय अवधी 12 बजे से बढ़ाकर सायं 4 बजे की कर दी। यूजी कक्षाओं में दाखिले के लिए सायं 4 बजे तक दस्तावेजों की वेरिफिकेशन हुई इसके बाद हायर एजुकेशन का पोर्टल बंद होगा। अब 2 जुलाई को पहली मैरिट लिस्ट जारी होगी। कई दिनों से युवा दाखिले को लेकर अपनी कागजी औपचारिकताएं पूरी करने में लगे हुए थे। इस दौरान उनकी ओर से दस्तावेजों का वेरिफिकेशन करवाया गया है।

Posted By: manoj kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस