जागरण संवाददाता, फतेहाबाद : जिले में इस समय कोरोना पीक पर है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग को कोरोना के सैंपल बढ़ाने चाहिए, लेकिन यहां पर तो सैंपलों की संख्या भी कम कर दी है। कोरोना की तीसरी लहर जब शुरू हुई तो स्वास्थ्य विभाग के आदेश थे कि हर दिन कम से कम एक हजार लोगों के सैंपल लिए जाए। शुरू में ऐसा दिखा भी। हर दिन एक हजार से अधिक लोगों के सैंपल लिए गए। लेकिन जैसे-जैसे कोरोना के मरीज बढ़ते गए वैसे ही स्वास्थ्य विभाग ने सैंपल कम कर दिए। सैंपल लेने के नियम बना दिए गए। सरकारी अस्पताल में काम करने वाले कर्मचारी तब तक सैंपल नहीं दे पा रहे है जब तक उनके अंदर किसी प्रकार के लक्षण नजर न आ जाए। इसके अलावा जो लोग अब पाजिटिव आ रहे है उनके स्वजनों के सैंपल नहीं लिए जा रहे है। अगर तीन दिन के अंदर कोई लक्षण नजर आता है तो सैंपल लिए जा रहे है। यहीं कारण है कि सैंपल लेने की रफ्तार में कमी आई है।

सरकारी अस्पतलों में इलाज करवाने वाले मरीजों को देने पड़ रहे सैंपल

स्वास्थ्य विभाग अब सरकारी अस्पतालों में आने वाले मरीजों को सैंपल देने अनिवार्य कर दिया है। यहीं कारण है कि जो टारगेट रहता है वो अस्पताल में ही पूरा हो रहा है। वहीं लोग है कि टेस्टिंग करवाने के लिए आगे नहीं आ रहे। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से एक एंबुलेंस वैन भी लगाई गई है। लेकिन दिन में महज 100 के करीब टेस्ट हो पा रहे है। यहीं कारण है कि सैंपल कम हो रहे है। इसके अलावा सैंपल कम होने के बावजूद लोग पाजिटिव अधिक हो रहे है। यहीं कारण है कि स्वास्थ्य विभाग ने मान लिया है कि जिले में कोरोना संक्रमण पीक पर है।

वैक्सीन दे रही सुरक्षा

जिले में अब एक्टिव केसों की संख्या 640 पहुंच गई है। लेकिन राहत ये है कि अस्पताल में एक भी मरीज नहीं है। कोरोना की तीसरी लहर में तीन बुजुर्गों ने दम तोड़ा है। दो जाखल तो एक रतिया के बुजुर्ग ने दम तोड़ा है। इन बुजुर्गों ने वैक्सीन की एक भी डोज नहीं लगवाई थी। ऐसे में अब स्वास्थ्य विभाग लोगों से अपील कर रहा है कि वैक्सीन जल्द से जल्द लगवा ले। जिले में अब तो जो लोग पाजिटिव आ रहे है उनमें से 70 प्रतिशत लोगों ने वैक्सीन की दोनों डोज लगवा ली है। यहीं कारण है कि कोरोना संक्रमण इन पर असर नहीं डाल रहा।

अब जाने पिछले कुछ दिनों से हुए टेस्ट व संक्रमित मरीज

तिथि टेस्ट संक्रमित मिल

14 जनवरी 645 92

15 जनवरी 685 53

16 जनवरी 289 65

17 जनवरी 857 92

18 जनवरी 886 57

19 जनवरी 855 40

20 जनवरी 901 156

21 जनवरी 620 148

22 जनवरी 505 155

23 जनवरी 159 71

24 जनवरी 445 140

-------हमारी टीम शहर में रहती है, लेकिन लोग है कि सैंपल नहीं करवा रहे। इसके अलावा अस्पताल में हर गांव व शहर से मरीज आ रहे है। ऐसे में रेंडम से टेस्ट हो रहे है और पता भी चल रहा है कि संक्रमण कितना है। पिछले कुछ दिनों से संक्रमण बढ़ा है। ऐसे में सावधानी जरूरी है।

डा. मेजर शरद तूली, नोडल अधिकारी फतेहाबाद।

Edited By: Manoj Kumar