मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जेएनएन, हिसार

पतंजलि योग समिति हिसार द्वारा संचालित 15 दिवसीय सहयोग शिक्षक प्रशिक्षण शिविर में सोमवार को सूर्य नमस्कार का अभ्यास करवाया। जिला प्रभारी वीरेंद्र बडाला ने बताया कि सूर्य नमस्कार का अभ्यास करने से शरीर के सभी अंगों का संपूर्ण व्यायाम हो जाता है। प्रतिदिन 21 बार इसका अभ्यास करने से बच्चों की लंबाई बढ़ती है, पेट, कमर के रोग ठीक होते हैं। थायराइड, सरवाईकल, पेट व मोटापा से संबंधित विकार दूर हो जाते हैं। स्मरण शक्ति बढ़ती है। कार्य क्षमता में वृद्धि होती है। मन की चंचलता मिटती है।

महिला पतंजलि योग समिति की जिला महामंत्री कविता शर्मा, पतंजलि योग समिति के जिला प्रभारी वीरेंद्र बडाला तथा भारत स्वाभिमान के जिला प्रभारी मुकेश कुमार ने मिलकर सोमवार को इकसठ सूर्य नमस्कार के अभ्यास करवाए। उन्होंने कहा सूर्य नमस्कार करने से यश भी बढ़ता है और आंखों की चमक भी बनती है। सूर्य नमस्कार करने से हमारे अंदर नम्रता भी उत्पन होती है। मुकेश कुमार ने बताया कि इस शिविर का मुख्य उद्देश्य ऐसे सहयोग शिक्षक तैयार करना है, जो प्रशिक्षण के बाद क्षेत्र में जाकर हर प्रकार का प्रशिक्षण के बाद क्षेत्र में जाकर हर प्रकार का प्रशिक्षण देने में सक्षम हों। वे शारीरिक, मानसिक, वैचारिक, चारित्रिक, भावात्मक व सामाजिक रूप से सुदृढ़ हो।

कविता शर्मा ने गरूडासन, नटराजासन, वृक्षासन, गर्भासन, शलभासन, पूर्ण ऊष्ट्रासन, राजकपोतासन आदि एडवांस आसनों का अभ्यास करवाया। इस मौके पर पतंजलि के कार्यकर्ता कुलदीप शर्मा, विजेन्द्र, दिलबाग, जीसी नारंग, विनोद, कविता शर्मा, रैना, पुष्पा, कविता, संतोष, रीनू, सुमन आदि ने दीप प्रज्वलन करके किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप