सिरसा, जेएनएन। प्रदेश के मुख्यमंत्री व गृहमंत्री के बीच सीआइडी-सीआइडी चल रहा है। सीआइडी को लेकर इतना विवाद बढ़ गया है कि इस पर भी सीआइडी बैठानी पड़ेगी। सरकार मुद्दों से जनता को भटकाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में महिलाओं, दलितों पर अपराध बढ़ रहे है, सरकार को इसका जवाब देना ही होगा। यह बात कांग्रेस की प्रदेशाध्यक्ष कु. सैलजा ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए कही।

वह सिरसा में पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करने पहुंची। उन्होंने कहा कि दिल्ली चुनाव में कांग्रेस अच्छा प्रदर्शन करेगी। उन्होंने कहा कि जो कार्यकर्ता जी जान से पार्टी के लिए मेहनत करेगा वो ही पार्टी संगठन व सरकार आने पर सम्मान का हकदार होगा।

बता दें कि इससे एक दिन पहले हिसार में भी कुमारी सैलजा ने बीजेपी सरकार पर हमला बोला था। सैलजा ने कहा था कि विज और सीएम जनता का असल मुद्दों से ध्‍यान भटकाने के लिए सीआइडी किसके पास है, यह खेल, खेल रहे हैं। सीआइडी गृह मंत्री अनिल विज और सीएम मनोहर लाल में से किसके पास रहेगी यह क्‍या सुनिश्चित नहीं हो सकता। सैलजा ने अन्‍य कई विषयों पर सरकार को घेरा था।

सीएए से दी संविधान के आधार को चुनौती

कु. सैलजा ने नागरिकता संशोधन कानून पर केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि धर्म के नाम पर भेदभाव नहीं करेंगे, संविधान के इस आधार को ही चुनौती दी है। किसी भी देश के प्रताडि़त लोगों को शरण दी जा सकती है। ये लोग देश के बंटवारे की बात कर रहे है। सरकार के इस कदम से सबसे ज्यादा नुकसान गरीब व दलित लोगों को होगा।

कई जगह फाड़े पोस्टर

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कु. सैलजा के सिरसा आगमन पर पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा जगह जगह पर पोस्टर व फ्लेक्स लगाए गए थे। हिसार रोड व हुडा चौक पर कई जगहों पर लगे पोस्टर फाड़ दिये गए। हालांकि इस बारे में किसी ने भी शिकायत दर्ज नहीं करवाई।

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस