रोहतक, जेएनएन। रोहतक के पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (पीजीआइएमएस) में भर्ती सिरसा की कोरोना संक्रमित महिला की दूसरी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आने से चिकित्सकों में हड़कंप मचा हुआ है। बताया जा रहा है कि महिला की सेहत में सुधार होने के बाद भी रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर चिकित्सक चिंता में हैं। 

बता दें कि करीब 11 दिन पूर्व सिरसा की 38 वर्षीय महिला को कोरोना आशंकित होने के चलते भर्ती कराया गया था। महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव और स्थिति अधिक खराब होने पर पीडि़ता को वेंटीलेटर पर भी रखा गया था। जिसके बाद स्थिति में सुधार हुआ तो पीडि़ता को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया।

अब पीडि़ता का दोबारा सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया, लेकिन इस बार भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं महिला के दोनों पॉजिटिव बच्‍चों की भी दूसरी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी। उनकी सेहत में भी सुधार है। ऐसे में वायरस पर स्‍टडी कर पाना डॉक्‍टरों के लिए मुश्किल हो रहा है। सेहत में सुधार के बावजूद शरीर में वायरस बना हुआ है। सिरसा की महिला की कोई विदेशी ट्रेवल हिस्‍ट्री भी नहीं है। महिला पॉजिटिव मिली थी और उनके आठ और छह वर्षीय दो बच्‍चे भी पॉजिटिव मिले थे। महिला के पति चंडीगढ़ में पीजी चलाते हैं तो  वहीं महिला भी सिरसा में पीजी संचालक है। कुछ समय पहले ये राजस्‍थान में एक शादी में शामिल होने गए थे। मगर अभी तक यह पता नहीं चल सका है महिला आखिर सं‍क्रमित कैसे हुई।

हेल्थ यूनिवर्सिटी के जनसंपर्क अधिकारी डा. गजेंद्र सिंह के मुताबिक बृहस्पतिवार हुए कुल 82 सैंपल की जांच में जिले के तीन सैंपल समेत 81 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आई। वहीं अस्थल बोहर स्टेशन के पास से एक व्यक्ति को उठाने समेत कुल तीन मरीजों की जांच रिपोर्ट का अभी भी चिकित्सकों को इंतजार है। बताया जा रहा है कि इन मरीजों का भी सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया है।

 

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस