जागरण संवाददाता, सिरसा : जिले में स्कूलों में छठी तक कक्षाएं लगनी शुरू हो गई है। स्वास्थ्य विभाग स्कूलों में विशेष अभियान चलाकर स्कूली बच्चों के सैंपल लेगा ताकि समय रहते संक्रमण का पता चल सके। स्वास्थ्य विभाग ने 18 टीमें गठित की है जो अलग अलग स्कूलों में जाकर छात्रों, टीचिंग व नान टीचिंग स्टाफ के सैंपल लेंगी। रोजाना करीब 1800 सैंपल लेने का टारगेट रखा गया है। पिछले वर्ष भी स्कूल खुलने के बाद सैंपलिंग शुरू हुई थी, उस दौरान जिले के 19 स्कूलों में करीब 125 विद्यार्थी व स्टाफ संक्रमित मिला था, जिसके बाद उन स्कूलों को 14 दिनों के लिए बंद कर दिया था।

--स्कूलों में बच्चों को कोविड 19 के नियमों की पालना की हिदायत दी गई है। विद्यार्थियों को मास्क लगाकर रखने व निश्चित शारीरिक दूरी रखने के निर्देश दिये गए है। वर्तमान में स्कूलों में तीन-तीन दिन आड इवन रोल नंबरों के हिसाब से विद्यार्थियों को बुलाया जा रहा है, ताकि सीमित संख्या में विद्यार्थी आए। स्कूल में एंट्री से पहले हाथों को सैनिटाज करने के निर्देश है। लेकिन इसके बावजूद कई स्कूलों में लापरवाही भी देखने को मिल रही है। वहां कोविड नियमों की पालना नहीं हो रही।

--जिले में वर्तमान में है पांच एक्टिव केस

जिले में कोरोना संक्रमण बेहद कम है। वर्तमान में पांच एक्टिव केस है। जिले में रिकवरी रेट 98.24 फीसद तक पहुंच गया है। अब तक जिले में चार लाख 35 हजार 476 लोगों के सैंपल लिए जा चुके हैं। जिले में 29247 संक्रमित मिल चुके हैं जिनमें से 28734 स्वस्थ हो चुके हैं। संक्रमण के कारण अब तक 508 लोगों की मौत हो चुकी है।

---जिले के स्कूलों में कोविड के सैंपल लिए जाएंगे ताकि संक्रमण का समय रहते पता चल सके। सैंपलिंग के लिए 18 टीमें गठित की गई है,जो स्कूलों में जाकर सैंपल लेगी। स्कूल संचालकों को निर्देश है कि वे कोविड नियमों की पालना करें साथ ही अगर किसी को खांसी, जुकाम, बुखार की शिकायत हो तो उसकी सैंपलिंग करवाएं। - डा. बुधराम डिप्टी सिविल सर्जन सिरसा

Edited By: Manoj Kumar