केएस मोबिन, रोहतक : शाम सात बजे के बाद बेटियों को कोई वाहन नहीं मिलता है या खराब हो जाता है तो तुरंत सुरक्षा मुहैया कराई जाएगी। बेटियों की सुरक्षा का जिम्मा रिटायर फौजियों और छात्रों ने उठाया है। एक कॉल या मैसेज पर रिटायर फौजी मदद के लिए हाजिर होंगे। बेटियों को घर तक सुरक्षित पहुंचाएंगे। इसके लिए किसी प्रकार का शुल्क भी नहीं लिया जाएगा। शहर के रिटायर सैनिकों की ओर से गठित गनमैन एसोसिएशन के 10 सदस्यों ने यह अहम फैसला लिया है। वहीं बहनों को सुरक्षित घर की दहलीज तक पहुंचाने के लिए महर्षि दयानंद विश्‍वविद्यालय के छात्रों ने भी वहाट्सएप ग्रुप बनाया है।

गनमैन एसोसिएशन के वाइस प्रेसिडेंट सुरेश कुमार ने बताया कि हैदराबाद जैसी घटना फिर से ना हो इसके लिए यह कदम उठाना पड़ा। महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध पर रोक लगाना अनिवार्य हो गया है। वक्त आ गया है जब हर व्यक्ति इस ओर कदम उठाए। दूसरी ओर एमडीयू के इंजीनियरिंग विभाग के छात्र मनीष ने बहनों की सुरक्षा के लिए वहाट्सएप और फेसबुक पर अपना नंबर जारी किया। छात्र के इस कदम के सकारात्मक परिणाम यह रहे कि अन्य छात्रों भी इस नेक फैसले में शामिल हो रहे हैं। वहाट्सएप के जरिए छात्राओं और अन्य महिलाओं को जोड़ा जा रहा है। किसी भी आपात स्थिति में ग्रुप पर मदद के लिए मैसेज आते ही छात्र सुरक्षा के लिए पहुंचेंगे।

बहन-माता समझकर करेंगे मदद

गनमैन एसोसिएशन के सदस्य सुरेश का कहना है कि परेशान महिला की मदद बहन, बेटी, माता, ताई, चाची, बहन आदि समझकर करेंगे। घर तक गाड़ी में पहुंचाएंगे। कोई अन्य आर्थिक मदद की जरूरत पड़ती है तो वह भी की जाएगी। मदद के लिए फोन आने पर उस क्षेत्र के साथ तुरंत लोकेशन पर पहुंचेंगे। हमें  9896561294, 9896561294, 9466514266, 9306282489, 7404317810 इन नंबरों पर संपर्क किया जा सकता है।

एसपी से मिलेंगे रिटायर सैनिक

नारी सुरक्षा ग्रुप को बनाने वाले रिटायर सैनिक सोमवार को जिला पुलिस अधीक्षक से मुलाकात करेंगे। पूर्व सैनिकों ने कहा कि एसपी को अपनी योजना की पूरी जानकारी देंगे ताकि प्रशासन भी इस फैसले से अवगत हो। प्रत्येक सदस्य को फोटो आइडी कार्ड इश्यू किया जाएगा। जो भी व्यक्ति मुहिम में शामिल होने की इच्छा जाहिर करता है तो पुलिस वेरिफिकेशन के बाद ही उसे ग्रुप में शामिल किया जाएगा।

 

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस