सिरसा, जेएनएन। बिजली मंत्री रणजीत सिंह चौटाला ने भी बुधवार को सिरसा में पानीपत फ़िल्म पर बोलते हुए कहा कि राजा सूरजमल महान योद्धा थे, उनका अपमान करना ठीक नहीं है। फ़िल्म पानीपत पर बैन की मांग का समर्थन करते हुए उन्‍होंने फ़िल्म निर्माता के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। रणजीत चौटाला ने कहा कि जाटों व मराठों के संबंधों का पुराना इतिहास है। वे इस दौरान जाट धर्मशाला में अभिनंदन समारोह में शामिल हुए थे। उन्‍होंने मेधावी छात्र छात्राओं को सम्मानित भी किया। उन्‍होंने इस दौरान बिजली विभाग में कर्मचारियों की कमी पर बोलते हुए कहा कि कैबिनेट में बजट को देखते हुए फैसला लिया जाएगा। पूरे प्रदेश में बिजली सुधार के कार्य निरंतर जारी है। भ्रष्टाचार पर कार्रवाई पर रणजीत चौटाला ने कहा कि सीएमओ कार्यलय की तर्ज पर हेल्पलाइन नंबर जारी करने पर विचार किया जाएगा।

उन्होंने एक उदहारण देते हुए कहा कि मराठा लीडर माधव राम सिंधिया ने कहा था मराठा जब पानीपत में घिर गए थे तो जाटों ने उनकी महिलाओं को घेरे में सुरक्षित वापस छोड़ा था और मराठों की जाटों ने काफी मदद की थी।  उन्होंने कहा कि जाटों के साथ मराठाओं का पुराना संबंध है। उन्होंने कहा कि जाटों ने हमेशा ही विदेशी आक्रमणकारियों से मुकाबला किया है। ज्यादातर युद्ध पानीपत में ही हुए उनमे जाटों की भूमिका अहम् रही है।  उन्होंने कहा कि पुराने समय से अब भी सेना में जाट और हरियाणा के वीर देश की रक्षा कर रहे हैं।

बिजली मंत्री रणजीत सिंह चौटाला ने कहा कि प्रदेश में बिजली सुधार का काम निरंतर जारी है।  उन्होंने कहा कि विभाग में भ्रटाचार को खत्म करने के लिए सीएमओ की तर्ज पर हेल्पलाइन नंबर जारी करने पर भी विचार किया जायेगा।  उन्होंने कहा भरस्टाचार की शिकायत मिलने पर तुरंत कार्रवाई  की जाएगी। बिजली मंत्री चौधरी रणजीत सिंह आज सिरसा की जाट धर्मशाला में अभिनन्दन समारोह में शामिल हुए और मेघावी छात्र छात्राओं को सम्मानित किया।

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस